Breaking News

कोरोना दुनिया में:14.70 लाख की आबादी वाले ऑकलैंड में सिर्फ 3 कोरोना पॉजिटिव, न्यूजीलैंड ने लगाया 3 दिन का सख्त लॉकडाउन

न्यूजीलैंड के सबसे बड़े शहर ऑकलैंड में एक ही परिवार के तीन सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद यहां रविवार आधी रात से तीन दिन का सख्त लॉकडाउन लगा दिया गया। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न ने कैबिनेट के साथ मीटिंग के बाद इसकी जानकारी दी। न्यूजीलैंड की कुल आबादी 50 लाख के आसपास है। वहीं, ऑकलैंड की पॉपुलेशन 14.70 लाख है।

वहीं, अमेरिका के 44 राज्यों में अब तक कोरोना के नए वैरिएंट के करीब 1000 मामले सामने आ चुके हैं। US सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के मुताबिक, सबसे ज्यादा 981 मामले ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन के हैं। इसके अलावा 13 मामले साउथ अफ्रीका और 3 मामले ब्राजील वाले वैरिएंट के हैं।

जापान ने अपनी पहली वैक्सीन को अप्रूव किया
उधर, जापान ने रविवार को अपनी पहली कोरोना वैक्सीन को अप्रूव कर दिया। साथ ही कहा कि कुछ दिनों में देश में वैक्सीनेशन शुरू किया जाएगा। हालांकि, जापान इस मामले में अमेरिका समेत दूसरे देशों से कई महीने पीछे है। जापान की हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि इससे पहले उसने फाइजर की वैक्सीन को मंजूरी दी थी। शुक्रवार को एक सरकारी पैनल की ओर से पुष्टि किए जाने के बाद स्वदेशी वैक्सीन का ऐलान किया गया। क्लिनिकल ट्रायल के फाइनल रिजल्ट से पता चला है कि वैक्सीन ने विदेशों में किए गए टेस्ट में एक जैसी एफिकेसी दिखाई है।

ब्रिटेन के वैज्ञानिकों का दावा, नए वैरिएंट से पुरी दुनिया को खतरा
ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि कोरोना संक्रमण का नया वैरिएंट जल्द ही दुनिया को अपनी चपेट में ले लेगा। इस वैरिएंट से निकलने में दुनिया को कब से कम एक दशक का समय लग जाएगा। इनमें सबसे ज्यादा संक्रामक ब्रिटेन के केंट क्षेत्र में फैले कोरोना वैरिएंट को बताया जा रहा है। जेनेटिक सर्विलांस प्रोग्राम के प्रमुख शेरोन ने बताया कि साउथ-ईस्ट इंग्लैंड में मिला कोरोना का नया वैरिएंट जल्द ही पूरी दुनिया में फैल सकता है।

उन्होंने वायरस के म्यूटेशन पर चिंता जाहिर की और कहा कि इस नए स्ट्रेन के कारण ब्रिटेन में फिर से लॉकडाउन लगने की संभावना है। ब्रिटेन का नया वैरिएंट 50 से अधिक देशों में पहुंच चुका है। जानकारों का कहना है कि अन्य वैरिएंट की तुलना में ये 70% ज्यादा संक्रामक और करीब 30% अधिक घातक हो सकता है।

अब तक 10.9 करोड़ केस
दुनिया में अभी 10.9 करोड़ केस हैं। अब तक महामारी से कुल 24.05 लाख लोगों की जान जा चुकी है। अच्छी बात ये कि 8.11 करोड़ मरीज ठीक भी हो चुके हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में शनिवार को कुल 86,275 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई और 2272 लोगों की मौत हो गईं। यहां अब तक 2.81 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। 1.81 करोड़ लोग रिकवर हुए हैं। 4.96 लाख लोगों की मौत हुई है।

वहीं, फ्रांस में शनिवार को कोरोना के 21,231 नए मामले सामने आए और 199 लोगों की मौत भी हुई। यहां अब तक 81,647 लोग संक्रमण से जान गंवा चुके है, जो ब्रिटेन और इटली के बाद यूरोप में तीसरे पायदान पर है। पिछले 7 दिनों में कोरोना से 10,037 नए मरीज अस्पतालों में एडमिट हुए हैं, जिनमें से 1,795 मरीजों को ICU में भर्ती कराया गया है।

फ्रांस में 28.88 लाख लोगों का वैक्सीनेशन
फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में अब तक 28 लाख 88 हजार 430 लोगों को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक दी जा चुकी है, जबकि इनमें से 6 लाख 39 हजार 899 लोगों को इसके दो टीके लग चुके हैं। फ्रांस का लक्ष्य मई के अंत तक अपने यहां के 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को कोरोना का टीका लगाना है और सभी वयस्कों का टीकाकरण अगस्त के अंत तक किए जाने का लक्ष्य बनाया गया है।

टॉप-10 देश, जहां अब तक सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हुए

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *