Breaking News

आज का पंचांग: 25 दिसंबर 2020, मोक्षदा एकादशी आज, जानें मुहूर्त, राहुकाल एवं दिशाशूल

आज का पंचांग: हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, आज मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि है। आज 25 दिसंबर दिन शुक्रवार है। आज मोक्षदा एकादशी है। आज के दिन पितरों की मुक्ति के​ लिए मोक्षदा एकादशी का व्रत रखा जाता है। भगवान विष्णु की पूजा की जाती है और मोक्षदा एकादशी व्रत की कथा सुनते हैं। आज गीता जयंती भी है। मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी तिथि के दिन ही भगवान श्रीकृष्ण ने संसार को गीता का ज्ञान दिया था। इस तिथि को गीता जयंती के रुप में मनाते हैं। ईसाइयों का प्रमुख त्योहार क्रिसमस भी आज ही है, आज के दिन ईसा मसीह का जन्म हुआ था। आज गिरजाघरों में प्रार्थनाएं होती हैं, लोग एक-दूसरे को उपहार और शुभकामनाएं देते हैं। आज प्रात:काल में 25 मिनट के लिए सर्वार्थ सिद्धि योग और रवि योग लग रहा है। आज के पंचांग में राहुकाल, शुभ मुहूर्त, दिशाशूल के अलावा सूर्योदय, चंद्रोदय, सूर्यास्त, चंद्रास्त आदि के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।

दिन: शुक्रवार, मार्गशीर्ष मास, शुक्ल पक्ष, एकादशी तिथि।

आज की भद्रा: दोपहर 12:37 बजे से रात्रि के 01:55 बजे तक।

आज का दिशाशूल: पश्चिम।

आज का राहुकाल: प्रात: 10:30 बजे से 12:00 बजे तक।

आज का पर्व एवं त्योहार: क्रिसमस, मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती।

विक्रम संवत 2077 शके 1942 दक्षिणायन, दक्षिणगोल, हेमंत ऋतु मार्गशीर्ष मास शुक्ल पक्ष की एकादशी 25 घंटे 55 मिनट तक, तत्पश्चात् द्वादशी अश्वनी नक्षत्र 07 घंटे 36 मिनट तक, तत्पश्चात् भरणी नक्षत्र शिव योग 14 घंटे 36 मिनट तक, तत्पश्चात् सिद्धि योग मेष में चंद्रमा।

सूर्योदय और सूर्यास्त

आज के दिन सूर्योदय प्रात:काल 07 बजकर 12 मिनट पर होगा, वहीं सूर्यास्त शाम को 05 बजकर 31 मिनट पर होगा।

चंद्रोदय और चंद्रास्त

आज के ​दिन चंद्रोदय दोपहर 02 बजकर 15 मिनट पर होगा। चंद्र का अस्त अगले दिन 26 दिसंबर को तड़के 03 बजकर 36 मिनट पर होगा।

आज का शुभ समय

अभिजित मुहूर्त: आज दोपहर 12 बजकर 01 मिनट से दोपहर 12 बजकर 42 मिनट तक।

अमृत काल: कल प्रात:काल 05 बजकर 12 मिनट से सुबह 07 बजे तक।

सर्वार्थ सिद्धि योग: प्रात: 07 बजकर 12 मिनट से सुबह 07 बजकर 37 मिनट तक। इस समय में ही रवि योग भी लगा रहेगा।

विजय मुहूर्त: दोपहर 02 बजकर 05 मिनट से दोपहर 02 बजकर 46 मिनट तक।

आज मार्गशीर्ष शुक्ल एकादशी है। आज शुक्रवार के दिन आपको माता लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। आज आप कोई नया कार्य करना चाहते हैं तो शुभ मुहूर्त का ध्यान रखें।

प्रातिक्रिया दे