Breaking News

चीन के विश्वविद्यालयों में पढ़ाई करने वाले करीब 25 हजार भारतीय छात्र परेशान, चीन ने रेजिडेंट परमिट तथा वीजा रद कर रखे हैं

बीजिंग। चीन के विश्वविद्यालयों में पढ़ाई करने वाले हजारों भारतीय तथा विदेशी छात्र परेशान हैं। चीन सरकार ने कोरोना महामारी के कारण यात्रा प्रतिबंध लागू कर रखा है। अब इन छात्रों ने चीन सरकार से देश में लौट कर पढ़ाई फिर से शुरू करने की इजाजत मांगी है।

कोरोना की दूसरी लहर के चलते ऑनलाइन पढ़ाई में दिया जा रहा जोर

छात्रों ने फेसबुक पर जारी पत्र में कहा है कि चीन सरकार ने कोरोना महामारी के कारण गत वर्ष मार्च से ही अंतरराष्ट्रीय छात्रों के रेजिडेंट परमिट तथा वीजा रद कर रखे हैं। देश में कोरोना की दूसरी लहर के कारण ऑनलाइन पढ़ाई करने पर ही जोर दिया जा रहा है। लेकिन छात्रों का कहना है कि उनमें से अधिकांश विज्ञान की पढ़ाई कर रहे हैं, जिसमें प्रयोगशाला की जरूरत होती है। उनका यह भी कहना है कि बिना कोई कारण बताए ही छात्रवृत्ति निलंबित कर दी गई है, जिससे उन्हें काफी कठिनाई हो रही है।

चार लाख से ज्यादा विदेश छात्र चीन में कर रहे पढ़ाई

मालूम हो कि करीब 25 हजार भारतीय समेत दुनियाभर से 4.40 लाख से ज्यादा छात्र चीन में पढ़ाई कर रहे हैं। इनमें मेडिकल की पढ़ाई करने वाले छात्रों की संख्या ज्यादा है।

बता दें कि विशेषज्ञों का मानना है कि चीन से ही अन्य देशों में कोरोना महामारी फैली है। सबसे पहले दिसंबर के महीने में चीन में कोरोना के मामले देखे गए थे। मार्च आते-आते चीन कोरोना महामारी की चपेट में आ गया था। वहीं, अभी ब्रिटेन और अमेरिका जैसे देश कोरोना महामारी से गंभीर रूप से जूझ रहे हैं। यहां रोजाना कोरोना के चलते हजारों लोग की मौत हो रही है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *