Breaking News

डोनाल्ड ट्रंप का इंस्‍टाग्राम और ट्विटर अकाउंट किया ब्लॉक, फेसबुक अकाउंट हुआ बैन

वाशिंगटन, रायटर। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी हार स्‍वीकार करने को तैयार ही है नहीं है। इस बीच ट्रंप ने कुछ आपत्तिजनक ट्वीट किए। इसी का नतीजा है कि विश्‍व के सबसे पुराने लोकतंत्र में आज चुनाव के बाद ट्रंप समर्थक और पुलिस में भिड़ंत हो गई है। अमेरिका के समर्थकों ने व्हाइट हाउस और कैपिटल हिल्स के बाहर जमकर हंगामा किया। हिंसा के बाद ट्विटर, फेसबुक और इंस्टाग्राम ने अपने-अपने प्लेटफार्मों पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के अकाउंट्स फ्रीज कर दिए। हिंसा के दौरान उनके आधारहीन दावों को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया। फेसबुक ने कहा कि जो बाइडन के शपथ तक उनका अकाउंट प्रतिबंधित रहेगा।

फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने कहा कि ट्रंप का अकाउंट कम से कम दो हफ्ते के लिए लॉक रहेगा। अनिश्चितकाल के लिए भी उसे लॉक किया जा सकता है। ट्विटर ने ट्रंप के अकाउंट को 12 घंटे के लिए निलंबित किया और उनके एक वीडियो संदेश समेत तीन ट्वीट को भी ब्लाक कर दिया। ट्विटर ने एक बयान में कहा, ‘वाशिंगटन डीसी में जारी हिं‍सा के मद्देनजर हमने डोनाल्ड ट्रंप के तीन ट्वीट को हटा दिया। वे हमारी नीतियों का उल्लंघन करने वाले थे।’

ट्विटर ने यह चेतावनी भी दी कि अगर उसकी नीतियों का उल्लंघन जारी रहा तो ट्रंप के अकाउंट को हमेशा के लिए हटा दिया जाएगा। इधर, फेसबुक ने भी ट्रंप के अकाउंट पर रोक लगा दी। इस दिग्गज इंटरनेट कंपनी ने अपनी दो नीतियों के उल्लंघन पर यह कार्रवाई की। फेसबुक और यूट्यूब ने ट्रंप के अकाउंट्स से वीडियो भी हटा दिए। ट्रंप ने संसद में समर्थकों के दाखिल होने पर एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें उन्होंने कहा, ‘मैं आपके दर्द को समझता हूं। मैं जानता हूं कि आप लोग आहत हैं। यह धांधली वाला चुनाव था, लेकिन हम ऐसा नहीं होने दे सकते हैं। हमें शांति रखनी होगी। इसलिए घर लौट जाएं।’ फेसबुक के स्वामित्व वाले इंस्टाग्राम ने भी ट्रंप के अकाउंट को 24 घंटे के लिए ब्लाक कर दिया। बता दें कि ट्विटर और फेसबुक ट्रंप के ट्वीट और पोस्ट को पहले भी ब्लाक कर चुके हैं।

अगर डोनाल्‍ड ट्रंप सोशल मीडिया पर कोई भड़काऊ ट्वीट या पोस्‍ट लिखते हैं, तो उनके समर्थक और उग्र हो सकते हैं। इसलिए ट्रंप के सभी सोशल मीडिया अकाउंट पर पाबंदी लगाने के बारे में सोचा गया है। हालांकि, यह पहली बार नहीं है, इससे पहले भी ट्रंप कई ऐसे ट्वीट कर चुके हैं, जिनपर काफी सवाल खड़े हुए। बता दें कि अब तक ट्रंप समर्थकों और पुलिस के बीच हुई झड़प में एक महिला की मौत हो चुकी है।

बता दें कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संसद का संयुक्त सत्र शुरू होने से ठीक पहले कहा कि वह चुनाव में हार को स्वीकार नहीं करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि इसमें धांधली हुई है और यह धांधली उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बाइडन के लिए की गई। ट्रंप ने वाशिंगटन डीसी में अपने हजारों समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि जब धांधली हुई हो, तब आपको अपनी हार स्वीकार नहीं करनी चाहिए। ट्रंप ने एक घंटे से अधिक के अपने भाषण में दावा किया कि उन्होंने इस चुनाव में शानदार जीत हासिल की है।

यह भी देखें: Donald Trump के समर्थकों का संसद परिसर में हिंसा, 4 की मौत

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *