Breaking News

QUAD देशों की बैठक में Joe Biden ने कहा, ‘आपको देखकर अच्छा लगा’, PM मोदी ने मुस्कुराकर दिया जवाब

नई दिल्ली: क्वाड (QUAD) देशों के प्रमुखों की पहली बैठक में अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने कुछ ऐसा कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के चेहरे पर मुस्कान आ गई. अमेरिका (America) में सत्ता परिवर्तन के बाद यह पहला मौका था जब बाइडेन और पीएम मोदी आमने-सामने थे. इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी ने बाइडेन को जीत पर फोन करके बधाई दी थी. शुक्रवार को क्वाड की वर्चुअल बैठक में PM मोदी, जो बाइडेन के अलावा ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मॉरिसन एवं जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा भी शामिल हुए.

‘दोस्तों के बीच आकर खुशी हुई’

बैठक के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी को देखकर अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन बेहद खुश नजर आए. अपनी खुशी बयां करते हुए उन्होंने कहा, ‘प्राइम मिनिस्टर मोदी, आपको देखकर अच्छा लगा’. यूएस प्रेसिडेंट ने आगे कहा कि दोस्तों के बीच आकर खुशी हो रही है. बाइडेन के इतना कहते ही पीएम मोदी के चेहरे पर मुस्कान आ गई. इसके बाद उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति को धन्यवाद दिया.

Biden ने QUAD को बताया महत्वपूर्ण

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पहली क्वाड लीडर्स वर्चुअल समिट के दौरान कहा कि यूएस स्थिरता प्राप्त करने के लिए सभी सहयोगियों के साथ काम करने के लिए प्रतिबद्ध है. यह समूह (QUAD) बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि यह व्यावहारिक समाधान और ठोस परिणामों के लिए समर्पित है. हम एक नई महत्वाकांक्षी संयुक्त साझेदारी शुरू कर रहे हैं, जो वैश्विक लाभ के लिए कोरोना वैक्सीन उत्पादन को बढ़ावा देने वाली है. उन्होंने आगे कहा कि पूरे हिंद-प्रशांत को लाभ पहुंचाने के लिए टीकाकरण अभियान को मजबूत किया जाना चाहिए.

China को दिया संकेत

सम्मेलन की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने नमस्ते के साथ की. जापान के प्रधानमंत्री को छोड़कर बाकी सभी लीडर्स ने अपनी बात इंग्लिश में रखी. वहीं जापानी पीएम योशिहिदे सुगा ने अपनी मातृभाषा में बात रखी. बैठक के दौरान, सभी नेताओं ने कई विषयों पर बात की. इस दौरान चीन पर भी बात हुई, लेकिन ज्यादा फोकस कोरोना महामारी पर रहा. सम्मेलन में जिस तरह से अमेरिकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी का स्वागत किया, वह दोनों देशों के मजबूत रिश्तों की तरफ इशारा करता है. साथ ही चीन को यह संदेश देता है कि उसके मुकाबले के लिए अमेरिका हमेशा भारत के साथ खड़ा रहेगा.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *