Breaking News

Kolkata: Mamata Banerjee को 2 दिन बाद SSKM अस्पताल से मिली छुट्टी, व्हील चेयर पर आईं बाहर

कोलकाता: पश्चिम बंगाल (West Bengal) की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को शुक्रवार शाम अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. दो दिन पहले नंदीग्राम (Nandigram) में हुए हादसे के बाद बनर्जी को कोलकाता के SSKM अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

बनर्जी के बार-बार कहने पर दी गई छुट्टी

हेल्थ बुलेटिन में बताया गया, ‘मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है. आज उनके बाएं पैर पर लगाया गया अस्थायी प्लास्टर भी काटकर देखा गया कि चोट ठीक हुई है या नहीं. इस दौरान डॉक्टर ने जांच में पाया कि सीएम के पैर की सूजन घट रही है. इसके अलावा अब उन्हें गर्दन, कंधे और कमर में ज्यादा दर्द नहीं हो रहा. डॉक्टर 48 घंटे तक उन्हें ऑब्जर्वेशन में रखना चाहते थे, लेकिन सीएम के बार-बार कहने पर उन्हें छुट्टी दे दी गई.

नंदीग्राम में ममता पर हुआ हमला!

बुधवार को नंदीग्राम सीट से नामंकन दाखिल करने के बाद ममता बनर्जी ने अपने ऊपर हमला होने का आरोप लगाया था. उन्होंने बताया कि मंदिर से लौटते वक्त 4 से 5 लोगों ने कार के दरवाजे को धक्का दिया. इस हादसे में उनका पैर कार के दरवाजे में फंस गया और उन्हें चोट लग गई. सीएम ममता ने कहा, ‘यह हादसा नहीं बल्कि एक साजिश है. उस वक्त मेरे साथ प्रशासन का कोई व्यक्ति मौजूद नहीं था.’

किसी ने नहीं दिया धक्का: चश्मदीद

इस हादसे के वक्त छात्र सुमन मैती मौके पर मौजूद थे. उनका कहना है कि जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी यहां पहुंचीं, तब उनको देखने के लिए भीड़ जमा हो गई और लोग उन्हें घेरकर खड़े हो गए. इस दौरान उन्हें गर्दन और पैर पर चोट लगी. किसी ने उन्हें धक्का नहीं दिया. उनकी कार धीरे-धीरे चल रही थी.’

विपक्ष ने आरोपों को किया खारिज

वहीं विपक्ष ने ममता के साजिश के आरोपों को खारिज कर दिया और उनसे पूछा कि आखिर Z+ सुरक्षा घेरे में कैसे बाहरी लोग घुस गए. बंगाल बीजेपी उपाध्यक्ष अर्जुन सिंह ने कहा कि इस स्टंट के जरिए ममता सहानुभूति पैदा करने की कोशिश कर रही हैं. जब इस बारे में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी से बात की तो उन्होंने कहा कि ममता ने चुनावी मुश्किलों को भांपते हुए इस पब्लिक स्टंट की योजना बनाई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *