Breaking News

ट्रम्प ने दिए वापसी के संकेत:2024 में फिर से चुनाव लड़ने की तैयारी में पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति, बोले- अलग पार्टी बनाने का कोई प्लान नहीं

व्हाइट हाउस से निकलने के बाद पहली बार लोगों के सामने सामने आए अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 2024 में एक बार फिर से राष्ट्रपति चुनाव लड़ने के संकेत दिए। उन्होंने रविवार को कहा कि मेरा रिपब्लिकन पार्टी से अलग होने का कोई इरादा नहीं है। मैं कोई नई पार्टी बनाने नहीं जा रहा।

उन्होंने कहा, ‘आज मैं आपके सामने ऐलान करने आया हूं कि 4 साल पहले जिस अतुलनीय यात्रा को हमने साथ मिलकर शुरू किया था, उसका अंत अभी दूर है। बहुत कुछ किया जाना बाकी है। हम यहां अपने मूवमेंट, अपनी पार्टी और अपने देश के भविष्य के बारे में बात करने के लिए इकट्ठा हुए हैं।

अपनी जीत का झूठा वादा दोहराया
ट्रम्प ने फ्लोरिडा के ऑरलैंड में 2021 कंजर्वेटिव पॉलीटिकल ऐक्शन कॉन्फ्रेंस में शिरकत की। उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए पूछा कि क्या आपने मुझे मिस किया? इस दौरान उन्होंने वहां मौजूद बिना मास्क के लोगों के लिए कहा कि यहां कोई मास्क नहीं है। यहां कोई डबल मास्क नहीं है।
उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव में अपनी जीत की झूठी बात को एक बार फिर से दोहराया। उन्होंने कहा, ‘डेमोक्रेट्स चुनाव हार गए थे। किसे पता कि मैं तीसरी बार उन्हें हराने का फैसला भी ले सकता हूं।’

बाइडेन पर भी साधा निशाना
इस दौरान ट्रंप ने मौजूदा राष्ट्रपति जो बाइडेन पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आधुनिक इतिहास में किसी भी राष्ट्रपति का पहला कार्यकाल इतना खराब रहा है। बाइडेन प्रशासन ने यह साबित किया है कि वे नौकरी विरोधी, परिवार विरोधी, बॉर्डर विरोधी, एनर्जी विरोधी, महिला विरोधी और विज्ञान विरोधी है। एक ही महीने में हम ‘अमेरिका फर्स्ट’ से ‘अमेरिका लास्ट’ पर पहुंच गए हैं।

एक इंटरव्यू में भी अपनी बढ़ती लोकप्रियता का जिक्र किया था
6 जनवरी को अमेरिकी संसद के अंदर और बाहर हिंसा हुई थी। भीड़ को उकसाने के आरोप में ट्रम्प पर महाभियोग चलाया गया। इसमें वे बेकसूर पाए गए। निर्दोष पाए जाने के बाद ट्रम्प ने पहली बार 18 फरवरी को एक टीवी चैनल से बातचीत की थी। 2024 में चुनाव लड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा था कि अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी। लेकिन, कई सर्वे सामने आए हैं। मुझे जबरदस्त सपोर्ट मिला है और मिल रहा है। याद रखिए मैं वो व्यक्ति हूं जिसके खिलाफ महाभियोग चलाया गया और इसके बावजूद मेरा समर्थन बढ़ रहा है।

प्रातिक्रिया दे