Breaking News

पढ़ाई ने बदल दी जिंदगी:ब्राजील में किताब पढ़ने के शौक ने 3 पीढ़ी की नौकरानी को बना दिया स्टार; अब लेखक, रैपर और टीवी होस्ट हैं

जॉइस फर्नांडीस अपने परिवार की तीसरी पीढ़ी की नौकरानी थी। वह एक अपार्टमेंट में घर की देखभाल और साफ-सफाई का काम करती थी। जॉइस घंटों बुक-शेल्फ को साफ करती थी। इस बीच जॉइस को ‘ओल्गा: रिवोल्यूशनरी एंड मार्टियर’ नाम की किताब दिखी, जिसे उसने पढ़ना शुरू किया।

जॉइस उस किताब को मालिक के बाहर जाने के बाद ही पढ़ती थी। उसे डर था कि यदि मालिक ने उसे किताब बढ़ते हुए देख लिया तो उसे नौकरी से निकाल दिया जाएगा। लेकिन एक दिन उसके मालिक ने किताब पढ़ते देख लिया। उसने जॉइस को बुलाया और उसकी तारीफ की। फिर किताबें पढ़ने के लिए प्रेरित किया। जॉइस ने किताबें पढ़ना शुरू किया।

कॉलेज में दाखिला लिया और 2012 में उसने डिग्री हासिल की। इसके बाद जॉइस ने नौकरानियों के जीवन पर किताब लिखी, जो ब्राजील में चर्चा का विषय बनी। जॉइस ने टीवी पर कुछ प्रोग्राम होस्ट किए। यहां उन्होंने नौकरानियों और नस्लवाद जैसे मुद्दों पर अपनी बात रखी। फिर कला के जरिए अपनी आवाज बुलंद की और रैपर बन गईं। वहीं अब जॉइस फर्नांडीस ब्राजील की स्टार बन चुकी हैं। लोग उन्हें प्रेटा रारा यानी अद्वितीय अश्वेत महिला के नाम से जाना जाता है।

मकान मालिक सिर्फ बचा हुआ खाना देते थे

35 वर्षीय जाइस बताती हैं- ‘जिन घरों में उन्होंने नौकरानी का काम किया, वहां सिर्फ बचा हुआ खाना उन्हें खाने के लिए दिया जाता था। बाथरूम के इस्तेमाल पर भी पाबंदी थी। पैर धोकर घर में प्रवेश मिलता था। नुकसान होने पर यातनाएं दी जाती थीं। यह सिर्फ उनकी ही कहानी नहीं थी, बल्कि ज्यादातर मेड की यही स्थिति थी। हालांकि, उस समय उदार मालिक का मिलना मेरे लिए सौभाग्य की बात थी।’

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *