Breaking News

संदिग्ध आतंकी की नागरिकता का मामला:न्यूजीलैंड की PM ने कहा- ऑस्ट्रेलिया की सरकार अपनी जिम्मेदारियों से भाग रही है, हम उनसे परेशान हो चुके

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) से संबंध रखने की आरोपी महिला के मामले में उपजे विवाद के मद्देनजर ऑस्ट्रेलिया पर निशाना साधा है। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की सरकार पर जिम्मेदारियों से भागने का आरोप लगाया है। अर्डर्न ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की ओर से एक के बाद एक खड़ी की जा रही परेशानियों को झेलते-झेलते न्यूजीलैंड थक चुका है।

BBC की रिपोर्ट के मुताबिक, 26 साल की महिला ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दोनों की नागरिकता तब तक कायम रखी थी, जब तक कि कैनबरा ने पिछले साल इसे रद्द नहीं कर दिया था। अपने दो बच्चों के साथ सीरिया से तुर्की में प्रवेश करने के दौरान उसे पकड़ लिया गया था। इसके बाद से वह न्यूजीलैंड में निर्वासन का सामना कर रही है। हालांकि अर्डर्न ने कहा कि महिला को ऑस्ट्रेलिया भेजा जाना चाहिए।

तुर्की के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय ने पहचाना
अर्डर्न ने कहा कि महिला को तुर्की के राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय ने IS के सदस्य के रूप में पहचाना है, वह बचपन से ही न्यूजीलैंड में नहीं रहती थी। जब वह 6 साल की थी, तब उसके परिवार ने न्यूजीलैंड छोड़ दिया था। इसके बाद वे ऑस्ट्रेलिया चले गए थे और वहां की नागरिकता हासिल कर ली थी। इसके बाद वे ऑस्ट्रेलियाई पासपोर्ट पर ही सीरिया गए।

ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने भी जवाब दिया
इस बीच, ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा कि उनका काम ऑस्ट्रेलिया के हितों की रक्षा करना है। उन्होंने कहा कि संसद में पारित कानून आतंकी गतिविधियों में लिप्त आरोपी की दोहरी नागरिकता को स्वत: ही रद्द कर देता है। उन्होंने कहा कि वे जल्द ही पड़ोसी देश की प्रधानमंत्री से बात करेंगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *