Breaking News

PM Modi के साथ बैठक में शामिल होंगे फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती, जानें गुपकर गुट का एजेंडा

PM Modi के साथ बैठक में शामिल होंगे फारूक अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती, जानें गुपकर गुट का एजेंडा

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के साथ 24 जून को होने वाली क्षेत्रीय दलों की सर्वदलीय बैठक में नेशनल कॉन्फ्रेंस प्रमुख फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) शामिल होंगे.

फारुक अब्दुला के घर पर बैठक में लिया गया फैसला

पीएम मोदी के साथ होने वाली बैठक से पहले आज (मंगलवार) श्रीनगर में फारुक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) की अध्यक्षता में उनके घर पर गुपकार पार्टियों की बैठक हुई, जिसमें महबूबा मुफ्ती समेत 7 नेता मौजूद रहे. इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा बुलाई गई बैठक में जाने के विषय पर चर्चा हुई.

महबूबा मुफ्ती ने उठाया राजनैतिक कैदियों की रिहाई का मुद्दा

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा, ‘हम डायलॉग के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन हम जरूर चाहते हैं कि कुछ कॉन्फिडेंस बिल्डिंग मेजर होने चाहिए. पूरे देश में कोरोना महामारी के दौरान कैदियों को रिहा किया गया, जम्मू कश्मीर में भी ऐसा होना चाहिए था. जम्मू-कश्मीर के सियासी और अन्य कैदियों को भी रिहा किया जाना चाहिए था.’

महबूबा ने आगे कहा, ‘उनका जो भी एजेंडा होगा, हम अपना एजेंडा उनके सामने रखेंगे और उम्मीद करेंगे कि हमारे जाने से कम से कम इतना हो कि जेलों में बंद हमारे लोगों को कम से कम रिहा किया जाए, अगर रिहा नहीं कर सकते तो कम से कम जम्मू-कश्मीर ले आएं, कम से कम उनके परिवार के लोग तो उनसे मिल सकें.’

कश्मीर मसले पर पाकिस्तान से बात करें: महबूबा

महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा, ‘गुपकार गठबंधन का जो एजेंडा है, उसके तहत हम बात करेंगे. हमसे जो छीना गया है, उसपर बात करेंगे कि यह गलत किया गया है. यह गैर कानूनी है और असंवैधानिक है. इसको बहाल किए बगैर जम्मू-कश्मीर में अमन बहाल नहीं कर सकते. इसके साथ ही महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भारत सरकार को कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान से भी बातचीत करनी चाहिए.

लाइव टीवी