Breaking News

लापरवाही: प्राइवेट हॉस्पिटल में बत्ती गुल होने से ऑक्सीजन सप्लाई प्रभावित, 60 वर्षीय महिला की मौत

जबलपुर: कोरोना काल में  जबलपुर के निजी अस्पतालों में मरीजों की मौत का सिलसिला थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है. कभी ऑक्सीजन और इंजेक्शन की कमी जिंदगी पर भारी पड़ जाती है तो कभी बेवजह बिजली का गुल हो जाना मरीजों की जिंदगी पर भारी पड़ रहा है. ऐसा ही एक मामला मदन महल स्थित शुभम हॉस्पिटल से सामने आया है, जहां 60 वर्षीय महिला की बिजली गुल हो जाने के दौरान ऑक्सीजन न मिलने से मौत हो गई.

वृद्ध महिला महिला को बीते दिनों अत्यधिक बुखार होने के चलते अस्पताल में एडमिट किया गया था, लेकिन आज जब वह ऑक्सीजन सपोर्ट पर थी तब कई घंटों के लिए बिजली गुल हो गई और इस दौरान अस्पताल प्रबंधन का जनरेटर भी अस्पताल का लोड उठाने में नाकाफी साबित हुआ. देखते ही देखते महिला ने दम तोड़ दिया.

इस दौरान कई अन्य मरीजों के जीवन पर भी संकट गहरा गया. मृतिका के परिजनों ने यह आरोप लगाया है कि इस हादसे का दोष किसे दिया जाए, बिजली विभाग को अस्पताल प्रबंधन को या सरकार को ? वह निशब्द हो चुके हैं.

अस्पताल प्रबंधन ने क्या कहा?

वहीं अस्पताल प्रबंधन के अनुसार महिला की मौत बिजली गुल होने के चलते नहीं हुई है. महिला बीते कई दिनों से गंभीर बीमार थी जिसके चलते उसकी मौत हुई है. बहराल वजह जो भी रही हो, लेकिन कोविड-19 के दौर में अस्पताल जैसी संवेदनशील जगह पर इस तरह कई घंटों के लिए बिजली का गुल हो जाना जरूर सवालों के घेरे में है.

ये भी पढ़ें: इंदौर में बढ़ सकता है कोरोना कर्फ्यू, घर से बाहर निकलने पर मिलेगी ये सजा

ये भी पढ़ें: 2 बहनों ने पेश की मिसाल, खुद की शादी में खर्च होने वाले 2 लाख रुपए कोरोना मरीजों के इलाज के लिए दिए