Breaking News

झारखंड में कोरोना का नया रुप! वायरस में UK स्ट्रेन और डबल वेरिएंट की पुष्टि

 

Ranchi: झारखंड में कोरोना के नए रूप का पता चला है. यहां Corona के UK स्ट्रेन और डबल वेरिएंट की पुष्टि हुई है. कोरोना की दूसरी लहर बेहद खतरनाक है, उस पर झारखंड में कोविड संक्रमित मरीजों के लिए गए सैंपल में यूके स्ट्रेन और डबल वैरीअंट वायरस पाए जाने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता और चुनौती दोनों बढ़ गई है.

झारखंड के Covid संक्रमित मरीजों के लिए गए सैंपल में यूके स्ट्रेन और डबल वैरीएंट वायरस पाया गया है. स्वास्थ्य विभाग ने कुल 50 सैंपल जांच के लिए भुवनेश्वर भेजे थे. कुल 50 नमूनों में से 3% नमूने घातक रूप से संक्रमण को दिखा रहे हैं. 9 सैंपल में यूके का स्ट्रेन मिला है. जबकि 4 सैंपल में डबल म्यूटेंट स्ट्रेन की मौजूदगी पाई गई है.

ये भी पढ़ें- कोरोना ने मचाया ‘आतंक’, रद्द हुई CBSE बोर्ड परीक्षाएं, लोगों ने दिया ऐसा रिक्शन

वहीं कोरोना के बढ़ते मरीजों के कारण राज्य में बेड को लेकर भारी कमी बताई जा रही है. जबकि निजी अस्पतालों को भी 50 फीसदी बेड कोविड मरीजों के लिए रिजर्व रखने को कहा गया है. लेकिन हालात बिगड़ते ही जा रहे हैं. ऐसे में Asymptomatic मरीजों को होम आइसोलेशन में ही रहने की सलाह दी जा रही है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के मुताबिक संक्रमित मरीजों के बेड को लेकर तमाम अधिकारियों के साथ समीक्षा की जा रही हैं, जो कमियां हैं उसे जल्द से जल्द दूर कर लिया जाएगा.

वहीं, रांची में कोविड मरीजों के बेहतर इलाज के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह हाई अलर्ट मोड में है. सदर अस्पताल को पूरी तरह कोविड अस्पताल बनाए जाने के बाद अब निजी हॉस्पिटलों में भी कोविड मरीजों के लिए बेड को लेकर जिला प्रशासन संजीदगी से काम कर रहा है. जिला प्रशासन की ओर से 4 हॉस्पिटल मेडिका, मेदांता, सीसीएल और सेवा सदन की तरफ से अभी तक 50 फीसदी बेड आरक्षित करने संबंधी जानकारी मुहैया नहीं कराए जाने पर उन्हें नोटिस जारी किया गया है.

ये भी पढ़ें- झारखंड में Corona हुआ बेकाबू, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने जारी की एडवाइजरी

इसके साथ ही रांची जिला के निजी और सरकारी अस्पतालों में बेड की क्या स्थिति है, इसकी जानकारी के लिए जिला प्रशासन द्वारा कोविड लाइव डैशबोर्ड की लॉन्चिंग की गई. रांची जिले के ऑफिशियल वेबसाइट ranchi.nic.in पर जाकर लाइव डैशबोर्ड पर पूरी जानकारी हासिल की जा सकती है. कोविड लाइव डैश बोर्ड पर विभिन्न निजी एवं सरकारी अस्पतालों में बेड की उपलब्धता के साथ कोविड केस डाटा, सक्रिय मामले, कोरोना संक्रमण से मृत्यु, वैक्सीनशन आदि की जानकारी मिल सकेगी.

इसके अलावा रांची में 10 नए टेस्टिंग स्टैटिक सेंटर बनाए गए हैं. इसके लिए रांची के उपायुक्त आवास से बुधवार को नए टेस्टिंग स्टैटिक सेंटर के लिए टीम को सेंटर भेजा गया. सभी स्टैटिक टेस्टिंग सेंटर में प्रतिदिन दो सौ से ढाई सौ टेस्ट किए जाएंगे.

वहीं, झारखंड मंत्रालय में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते रोस्टर सिस्टम लागू कर दिया गया है. बुधवार, गुरुवार को छुट्टी रहने के कारण आदेश शुक्रवार से प्रभावी होगा.