Breaking News

CM शिवराज ने बुलाई मंत्रीमंडल की इमरजेंसी मीटिंग, मंत्रियों से कही ये बात

भोपालः मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रियों के साथ आपात बैठक की. सीएम ने सभी मंत्रियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी मंत्री अपने-अपने क्षेत्रों में युद्ध स्तर पर जुट जाएं ताकि कोरोना पर जल्द से जल्द नियंत्रण किया जा सके. बैठक के बाद सीएम ने कहा कि प्रदेश के सभी जिलों में उपचार के लिए अस्पतालों में बिस्तर, ऑक्सीजन, दवाओं, इंजेक्शन आदि की पर्याप्त व्यवस्था है, प्रदेश के सभी जिलों में कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे हैं. 

मंत्री अपने क्षेत्रों में करें काम 
बैठक में सीएम शिवराज ने मंत्रियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी मंत्री अपने-अपने क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण को रोकने में जुट जाएं. सभी जिलों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के इंतजाम युद्ध स्तर पर होने चाहिए. हमें हर हालत में कोरोना संक्रमण को प्रभावी रूप से रोकना है और हर कोरोना मरीज़ का सर्वोत्तम इलाज सुनिश्चित करना है. 

इलाज के लिए निजी अस्पतालों से भी अनुबंध किया जा रहा है
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि भविष्य की व्यवस्थाओं के लिए सभी जिलों के अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बिस्तर बढ़ाए जा रहे हैं, मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के उपचार के लिए जिलों के सरकारी अस्पतालों में कुल 60% तथा निजी अस्पतालों में 47% बिस्तर खाली हैं. शासकीय अस्पतालों में 17492 बिस्तर भरे हुए हैं, वहीं निजी अस्पतालों में 13250 बिस्तर भरे हुए हैं. इसके अलावा इलाज के लिए निजी अस्पतालों से भी अनुबंध किया जा रहा है. ताकि सभी को पर्याप्त इलाज मिल सके. 

ये भी पढ़ेंः MP के स्वास्थ्य मंत्री का रेमडिसिविर इंजेक्शन पर बड़ा बयान, कही यह बात

रेमडेसिविर इंजेक्शन की नहीं होगी कमी 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बैठक के बाद कहा कि कोरोना के उपचार के संबंध में 50,000 रेमडेसिविर इंजेक्शन के आर्डर दे दिए गए थे. प्रदेश में इंजेक्शन की नई खेप आना शुरू भी हो गई है. आगे भी इनकी पर्याप्त आपूर्ति बनी रहेगी.  इन्हें शासकीय तथा अनुबंधित अस्पतालों में निशुल्क लगाया जाएगा. रेमडेसिविर इंजेक्शन की कोई कमी नहीं होनी चाहिए इसका सरकार पूरा ध्यान रख रही है. 

ऑक्सीजन को 3 गुना बढ़ाया गया
सीएम ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की मात्रा भी बढ़ाई जा रही है. पहले प्रदेश में ऑक्सीजन की उपलब्धता 60 एम.टी. थी, जिसे 3 गुना बढ़ाया गया है. अब हमारे अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता 180 एम.टी. है, जो कि पर्याप्त है. अगर जरूरत पड़ी तो और ऑक्सीजन की व्यवस्था की जाएगी. इसके अलावा सीएम ने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की भी अच्छी से अच्छी व्यवस्था की जा रही है. जिला कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से इनकी पूरी देखभाल की जा रही है. दिन में कम से कम 2 बार इनसे बात करने तथा आकस्मिक निरीक्षण करने के भी निर्देश जिलों को दिए गए हैं.

ये भी पढ़ेंः MP में फिर हुई ‘मुख्यमंत्री कोविड-19 योद्धा कल्याण योजना’ की शुरुआत, जानिए किन कर्मचारियों को मिलेगा लाभ

WATCH LIVE TV