Breaking News

Holi 2021: ठंडाई पीने के ये अमेजिंग फायदे नहीं जानते होंगे आप?

नई दिल्ली: वैसे तो गर्मियों (Summers) का मौसम आते ही ठंडाई लोगों की पहली पसंद होती है लेकिन जब मौका होली (Holi) का हो तब इसे विशेष तौर से पंसद किया जाता है. जिस तरह रंगों के बिना होलीअधूरी है, उसी तरह ठंडाई (Thandai) के बिना भी होली का रंग थोड़ा फीका रह जाता है. रंगों और पकवानों से भरी होली में ठंडाई पीने का मजा ही अलग होता है.

बस एक चुटकी चावल से गरीबी होगी दूर, जानें क्यों पूजा के लिए जरूरी है अक्षत!

होली में तमाम पकवानों के साथ ठंडाई मुख्यतौर पर शामिल की जाती है. लेकिन, क्या आपको पता है कि ठंडाई सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होती है. ठंडाई पीने से हमें हेल्थ के कई बेनिफिट मिलते हैं. एक गिलास ठंडाई आपको बहुत सारे परेशानियों से बाहर निकाल सकती है. यह न केवल आप को धूप और लू से बचाती है और साथ ही नाक से आने वाले खून की बीमारी भी ठीक हो सकती है. इस रिपोर्ट में आपको बताते हैं इससे होने वाले फायदों के बारे में..

नेचुरल एनर्जी से भरपूर 
ठंडाई नेचुरल एनर्जी से भरपूर होती है. तरबूज और कद्दू के बीजों को मिलाया जाता है. ये शरीर को नैचुरल एनर्जी देता है. इसके अलावा ठंडाई में मिले बादाम और पिस्ता से भी शरीर को ताकत मिलती है और पीने वाला इससे ऊर्जावान बना रहता है.

एंटी-डिप्रेशन है ठंडाई
ठंडाई में काली मिर्च और लौंग जैसे कई मसाले मिलाए जाते हैं. इनसे मिलकर तैयार ठंडाई इम्यून सिस्टम के लिए काफी फायदेमंद होती है. साथ ही ठंडाई में केसर मिलने से यह एंटी-डिप्रेशन और एंटी-ऑक्सीडेंट के तौर पर काम करती है. जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद है.

मुंह के छालों के लिए फायदेमंद है ठंडाई
गर्मी के दिनों में अक्सर मुंह में छाले हो जाते हैं. इससे बचने के लिए नियमित ठंडाई का प्रयोग करें और फिर देखें इसका कमाल. आपको मुंह में छाले होने बंद हो जाएंगे.

प्याज ही नहीं छिलकों के भी हैं अद्भुत फायदे, जान लेंगी तो फेकेंगी नहीं बल्कि तिजोरी में रखेंगी

कब्ज को रखे दूर
कब्‍ज को करें दूर ठंडाई में खसखस का यूज किया जाता है जो गेस्‍ट्रोइंटेस्‍टाइनल की जलन जैसी समस्‍याओं से दूर रखकर कब्‍ज से बचाता है. खसखस में प्रोटीन, फाइबर, केल्शियम, फैट और मिनरल्‍स से भरपूर होता है. इसलिए गर्मियों में अपने को फिट रखने के लिए इसको जरूर पीएं.

पाचन-क्रिया होती है बेहतर
ठंडाई में सौंफ भी डाला जाता है, ठंडाई में सौंफ की मात्रा होने से शरीर को ठंडक मिलती है. इससे गैस्ट्रिक समस्याएं दूर रहती हैं. सौंफ में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण मौजूद रहता है, जिससे पाचन-क्रिया में सुधार होता है. ब्‍लोटिंग को रोके ठंडाई, पेट के ल‍िए बहुत अच्‍छी दवा है.  शरीर को ठंडक देने के अलावा ये पेट फूलने जैसी समस्‍या को भी दूर करती है. ठंडाई में मेथी और सौंफ का इस्‍तेमाल होता है जो पाचन क्रिया को बढ़ाता है और ब्‍लोटिंग की समस्‍या को दूर करता है.

Dahi-Kishmis Benefits: रहना है फिट तो ऐसे करें दही-किशमिश का सेवन, चौंका देंगे फायदे