Breaking News

UP बोर्ड परीक्षाओं को लेकर सीएम योगी ने की चर्चा, 31 मार्च तक बंद रहेंगे कक्षा 1 से 8 तक के सभी स्कूल

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सोमवार को सीएम योगी आदित्यनाथ एक्टिव मोड में नजर आएं.  सीएम योगी ने प्रदेश के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक किए.  इस बैठक में उन्होंने कोरोना की स्थिति को लेकर होली और पंचायत चुनाव के मद्देनजर प्रदेश में विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिए. साथ ही उन्होंने कक्षा एक से आठ तक के स्कूलों को 24 से 31 मार्च और कक्षा 9 से 12 तक के स्कूलों को 25 से 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिया है. इस दौरान मुख्यमंत्री ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों से बोर्ड परीक्षा के कार्यक्रमों  को लेकर भी चर्चा किए.

बोर्ड परीक्षाओं को लेकर भी हुई चर्चा
सीएम योगी आदित्यनाथ ने बीते सोमवार को अपने सरकारी आवास पर बेसिक व माध्यमिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की. सीएम ने इस अवधि में स्कूलों में चल रही कक्षा 9 व 11 की परीक्षाओं का आयोजन कोरोना की गाइडलाइन के तहत जारी रखने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने परिषदीय स्कूलों में 25 मार्च से छात्रों को अगली कक्षा में प्रमोट करने के लिए प्रस्तावित मूल्यांकन को स्थगित करने के निर्देश दिए है. इस दौरान  माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षाओं के कार्यक्रम को लेकर भी चर्चा हुई.

UP पंचायत चुनाव से पहले पुलिस विभाग में ताबड़तोड़ तबादले, 2 दिनों के अंदर 191 पुलिस अफसरों का ट्रांसफर

होली पर कोई रोक नहीं- CM योगी
सीएम योगी ने कहा कि संदिग्ध पाए जाने पर उनके क्वारंटीन की व्यवस्था और आरटीपीसीआर जांच कराई जाए. हर जिले में एक-एक डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल की उपलब्धता रहे. उन्होंने कहा कि पर्व और त्योहारों पर कोई रोक नहीं है, लेकिन कोविड संक्रमण को देखते हुए लोगों को जागरूक किया जाए.

डॉ. राम मनोहर लोहिया की जयंती आज, PM मोदी और CM योगी ने दी श्रद्धांजलि

होली के बाद होगी समीक्षा- डॉ. दिनेश शर्मा
उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि होली के बाद समीक्षा की जाएगी. यदि संक्रमण की रफ्तार बढ़ी तो छुट्टियां आगे बढ़ाई जा सकती हैं. वहीं, मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बताया कि त्योहारों के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाएगा.

सार्वजनिक कार्यक्रम के लिए लेना होगा परमिशन 
प्रदेश में अब सार्वजनिक कार्यक्रम व जुलूस बिना पूर्व अनुमति के नहीं होंगे. वहीं, सरकार ने स्पष्ट किया है कि पर्व व त्योहारों पर कोई रोक नहीं लगाई गई है. लेकिन बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लोगों को जागरूक करने के लिए कहा गया है. यह भी निर्देश दिए गए हैं कि बिना स्थानीय प्रशासन की पूर्वानुमति के कोई जुलूस तथा कार्यक्रम या सार्वजनिक समारोह आयोजित न किए जाएं. इन आयोजनों में 10 वर्ष की उम्र से कम के बच्चों, 60 से अधिक के वृद्ध और एक से अधिक गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों को शामिल होने से बचाया जाए.

प्रातिक्रिया दे