Breaking News

कर्तव्य के लिए अपनी जान पर ही खेल गया Jharkhand का यह पुलिसकर्मी सब कर रहे तारीफ

Ranchi:  झारखंड पुलिस का स्लोगन है, सेवा ही लक्ष्य है. लोगों की हिफाजत की जिम्मेदारी पुलिस की है. चाहे इसके लिए उन्हें अपनी जान जोखिम में क्यों ना डालनी पड़े. झारखंड पुलिस के इस स्लोगन को चरितार्थ करके दिखाया है रांची के एक पुलिस जवान ने अपनी जान की परवाह किए बिना अपराधियों से भिड़ गया और एक अपराधी को पकड़ लिया. वहीं, इस बहादुर पुलिसकर्मी की बहादुरी का किस्सा CCTV फुटेज में कैद हो गया.

ये भी पढे़ंः Jharkhand: बैटरी चोर की हत्या पुलिस के लिए बनी पहेली, इलाके में फैला तनाव

रांची पुलिस के द्वारा चुटिया थाना और शहर के अन्य इलाकों में चैन छिनने की घटनाओं पर स्नैचरों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस जुटी थी. साथ ही, चौक और चौराहों पर पुलिस की नियुक्ति करी जा रही थी. वहीं, इन अपराधियों को चुटिया थाना इलाके में घूमते हुए देखा गया. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए Sub-Inspector सुभाष चंद्र लाकड़ा ने त्वरित कार्रवाई करते हुए अपराधियों का पीछा किया और मुकचुन्द टोली चौक के पुलिस अधिकारी को अपराधियों को रुकने के लिए कहा. लेकिन अपराधी वहां से भागने लगे. वहीं, सब इंस्पेक्टर ने बहादुरी दिखाते हुए एक अपराधी को पकड़ लिया. यह देख कर दूसरे अपराधी ने हमला कर दिया.

इधर, सब इंस्पेक्टर ने सूझबूझ और बहादुरी से पिस्टल छीनने का प्रयास किया. इसी क्रम में अपराधी ने गोली चला दी. जिससे दारोगा घायल हो गया और अपराधी मौके का फायदा उठा फरार हो गए.

लेकिन, घटना के बाद पुलिस ने 4 स्पेशल टीम का गठन कर घटनास्थल का मुआयना किया. इसी क्रम में पुलिस ने अपराधियों का एक मोबाइल गिरा पाया और उसी के आधार पर पुलिस ने ट्रेस कर अपराधियों की गिरफ्तारी करने में सफलता पाई.

ये भी पढे़ंः झारखंड: सुरक्षाबल पर भारी पड़े नक्सली, IED विस्फोट में घायल CRPF जवान, हालत गंभीर

वहीं, पकड़े गए अपराधियों का नाम इमरोज अंसारी और तौकीद मल्लिक है और अपराधियों के पास से लोडेड देशी पिस्टल मैगजीन के साथ एक देसी कट्टा, 315 बोर का 6 जिंदा कारतूस 6 पीस और एक स्कूटी बरामद की गई. साथ ही,  बड़ा स्प्रिंग वाला चाकू , 2 मोबाइल सहित सोने के कई जेवरात भी बरामद किए. गिरफ्तार अपराधी पहले भी लोहरदगा जिला से और गुमला जिले से 2 कांडों में जेल जा चुके हैं और  गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि रांची इलाके में 30 से ज्यादा कांडों को अंजाम दे चुके हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *