Breaking News

Sawai Madhopur : Ranthambore National Park से गायब हैं आधा दर्जन बाघ-बाघिन, हड़कंप

Sawai Madhopur: बाघों की अठखेलियों को लेकर विश्व प्रसिद्ध राजस्थान (Rajasthan) के सवाई माधोपुर (Sawai Madhopur) स्थित रणथंभौर नेशनल पार्क (Ranthambore National Park) से इन दिनों करीब आधा दर्जन बाघ-बाघिन लापता हैं.

यह भी पढे़ं-Sawai Madhopur: बना रहे हैं Ranthambore National Park का प्लान, तो जानें किस जोन में दिखेगा Tiger

ऐसे में वन विभाग द्वारा गुपचुप तरीके से बाघों को ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है मगर इन आधा दर्जन बाघ बाघिनों को अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है. रणथंभौर से बाघ टी 95, टी 97, टी 64 सहित बाघिन टी 73 और उसके दो शावक करीब एक साल से लापता हैं.

यह भी पढे़ं-नए साल पर Ranthambore National Park को मिला खास तोहफा, उमड़ी पर्यटकों की भीड़

रणथंभौर में यह कोई पहला मामला नहीं है, जब बाघ-बाघिन लापता हुए हों. इससे पूर्व भी रणथंभौर से कई बाघ बाघिन लापता हो चुके हैं, जिनका आज तक कोई सुराग नहीं लगा. रणथंभौर में बाघों की सुरक्षा एवं मॉनिटरिंग को लेकर करोड़ो रूपये खर्च किये जाते हैं. बावजूद रणथंभौर से आधा दर्जन बाघ बाघिनों का लापता होने रणथंभौर वन प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल खड़ा करते हैं. बाघ टी 95, टी 97, टी 64 के साथ ही बाघिन टी 73 व उसके दो शावक लम्बे समय से नजर नहीं आये. ऐसे में बाघ-बाघिनों के लापता होने को लेकर वन विभाग द्वारा गुपचुप तरीके से उनकी तलाश भी करवाई जा रही है. मगर अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लगा है.

क्या कहना है रणथंभौर के सीसीएफ टीकमचंद वर्मा का
रणथंभौर से आधा दर्जन बाघ बाघिनों के लापता होने को लेकर रणथंभौर के सीसीएफ टीकमचंद वर्मा का कहना है कि रणथंभौर का एरिया काफी बड़ा है. ऐसे में कई बार बाघ बाघिन लम्बे समय तक दिखाई नहीं देते हैं. साथ ही उनका यह भी कहना है कि कई बार टेरेटरी को लेकर बाघो में आपसी टकराव हो जाता है और कमजोर बाघ नये इलाके की तलाश में बहुत दूर निकल जाता है, ऐसे में भी कई बार बाघ दिखाई नहीं देते हैं और उन बाघ-बाघिनों को मिसिंग मान लिया जाता है.

आधा दर्जन बाघ-बाघिनों के लापता होने को लेकर भलेही रणथंभौर वन प्रशासन जो भी तर्क दे लेकिन हकीकत ये है कि रणथंभौर से आधा दर्जन बाघ-बाघिन साल भर से गायब हैं और वन विभाग के अधिकारी लापता बाघ बाघिनों की तलाश करने के बजाय रणथंभौर के पर्यटन में व्यस्त हैं. रणथंभौर से आधा दर्जन बाघ बाघिनों का लापता होने रणथंभौर वन प्रशासन पर कई सवाल खड़े करता है.

Reporter-   Arvind singh Chauhan

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *