Breaking News

Jhunjhunu में दर्दनाक हादसा, मिट्टी ढहने से दबे चार बच्चे, 3 की मौत, 1 की हालत गंभीर

Jhunjhunu: झुंझुनूं (Jhunjhunu) के उदयपुरवाटी थाना इलाके (Udaipurwati Thana Area) के बागोरिया की ढाणी के नवोड़ी कोठी क्षेत्र में शनिवार को हुए दर्दनाक हादसे में तीन मासूमों की जान चली गई. वहीं, एक बच्चे की हालत गंभीर बनी हुई है.

यह भी पढे़ं- किडनैपिंग के दिन ही हो गई थी ‘मासूम’ की हत्या, परिजन बोले- कहीं से ला दो मेरा बच्चा

जानकारी के मुताबिक, बागोरिया की ढाणी के नवोड़ी कोठी इलाके में एक मंदिर में रोज स्थानीय बच्चे दर्शन के लिए जाते थे. इसी क्रम में चार बच्चे शनिवार को भी मंदिर में दर्शन पूजन के लिए गए थे. दर्शन पूजन के बाद वे मंदिर के पास ही खेलने लग गए. इसी दौरान एक मिट्टी का टीला ढह गया और बच्चे उसके नीचे दब गए.

यह भी पढे़ं- लापता ‘मासूम’ को नहीं ढूंढ पाई Jodhpur Police, IG के घर के सामने कट्टे में मिला शव

पास से गुजर रहे एक बच्चे ने यह सब देखा तो वह शोर मचाने लगा. पास पड़ौस के लोगों ने आकर हाथों से मिट्टी हटाकर एक बच्चे को निकाला लेकिन कुछ देर बाद पता चला कि इस मिट्टी में तीन और बच्चे दबे हुए है. जिस पर ग्रामीणों ने मशक्कत की और तीनों को निकाला. चारों को पहले चिराना के सरकारी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें सीकर (Sikar) रैफर किया गया. यहां पर तीन बच्चों को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया. वहीं एक बच्चे को जयपुर के लिए रैफर कर दिया. परिजन उसे चौमूं के एक निजी अस्पताल ले गए.

सूचना मिलते ही पहुंचे अधिकारी
घटना की सूचना मिलने पर एसपी मनीष त्रिपाठी (Manish Tripathi) मौके पर पहुंचे. साथ ही वे सीकर के कल्याण अस्पताल भी पहुंचे, जहां पर परिजनों से घटना की जानकारी ली. इस मौके पर सीकर कल्याण अस्पताल में बागोरिया की ढाणी के सरपंच राजेंद्र सैनी (Rajendra Singh) सहित अन्य ग्रामीण भी मौजूद थे. तीनों के शव सीकर के कल्याण अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए गए हैं. इन शवों का पोस्टमार्टम आज होगा. मृतकों में सात वर्षीय प्रिंस पुत्र महेश सैनी, सात वर्षीय कृष्ण पुत्र सुरेश सैनी तथा सोना पुत्री पूर्णमल सैनी शामिल है. वहीं, मृतक सोना का भाई प्रिंस घायल है.

Reporter- Sandeep Kedia

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *