Breaking News

सो रही है सरकार, संवेदनहीन हैं नीतीश कुमार, अब और नहीं सह सकता बिहार: RJD

Patna: बिहार में मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने 23 मार्च को विधानसभा घेराव को लेकर पूरी तैयारी में जुटी है. बेरोजगारी सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) लगातार सरकार पर निशाना साधते रहे हैं. उन्होंने अब 23 मार्च को बिहार विधानसभा (Bihar Vidhansabha) के घेराव की घोषणा की है.

तेजस्वी ने इस आयोजन में सभी लोगों से भाग लेने की अपील करते हुए कहा, ‘जब तक बिहार के करोड़ों युवाओं, छात्रों, बेरोजगारों और संविदाकर्मियों को उनका हक नहीं मिल जाता, तब तक हमारा संघर्ष जारी रहेगा. 23 मार्च को युवाओं के साथ मिलकर हम पटना में विधानसभा का घेराव करेंगे. आइए जात-पात, धर्म-पार्टी से ऊपर उठकर हम बेरोजगारी के खिलाफ आवाज बुलंद करें.’

RJD नेता अपने अधिाकरिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा, ‘मेरा बिहार के युवाओं को पहली कैबिनेट में पहली कलम से 10 लाख स्थायी नौकरी देने का संकल्प था. सत्ता का दुरूपयोग कर इन्होंने हमें रोका लेकिन मेरे इरादों को नहीं रोक पाएंगें. सड़क से सदन तक बेरोजगारों के लिए संघर्षरत हूं. सरकार सीधा जवाब नहीं देती कि कितने लाख पद रिक्त है और कब भरेंगे?’ RJD के एक नेता ने बताया कि तेजस्वी खुद इस तैयारी की निगरानी कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जनसरोकार के मुद्दे पर विधानसभा के प्रस्तावित घेराव को राजद यादगार बनाने की तैयारी में जुटा हुआ है. प्रदेश से लेकर पंचायत स्तर तक जागृति अभियान चलाया जा रहा है.

इधर, RJD ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर जानकारी देते हुए लिख है, ‘सो रही है सरकार, संवेदनहीन हैं नीतीश कुमार, अब और नहीं सह सकता बिहार, अनदेखी का यह अत्याचार! युवाओं, बेरोजगारों, संविदाकर्मियों, नियोजित शिक्षकों व बहाली की मांग कर रहे अभ्यर्थियों. 23 मार्च के विधानसभा घेराव का हिस्सा बनकर सरकार को युवाओं की ताकत का अहसास करवाएं.’

उल्लेखनीय है कि पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में रोजगार बड़ा मुद्दा बना था.Tejashwi Yadav व 10 लाख लोगों को नौकरी देने का वादा किया था, जबकि BJP ने 19 लाख लोगों को रोजगार देने की बात कहीं थी. चुनाव के बाद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे राजद के नेता तेजस्वी किसी न किसी मुद्दे को लेकर सरकार को घेर रहे हैं.

(इनपुट-आईएएनएस)

प्रातिक्रिया दे