Breaking News

Jaipur: मास्टर प्लान बनाकर किया जाएगा Rajasthan Roadways का विकास, बढ़ेंगी सुविधाएं

Jaipur: राजस्थान रोडवेज (Rajasthan Roadways) के बस स्टैंड्स का मास्टर प्लान बनाकर विकास किया जाएगा. इससे रोडवेज की सम्पतियों, डिपो और बस स्टैंडों का कायाकल्प होगा.

यह भी पढ़ें-Rajasthan Roadways में की ‘चाइल्ड केयर लीव’ में भेदभाव, वर्कर्स यूनियन ने उठाई आवाज 

बस स्टैंड पर आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए व्यवस्थित और सुनियोजित तरीके से विकास होगा, जिससे बस स्टैंड आने वाले यात्रियों को किसी भी प्रकार की सुविधा के लिए परेशानी नहीं हो, इसी को ध्यान में रखते हुए रोडवेज सीएमडी राजेश्वर सिंह (Rajeshwar Singh) ने अधिकारियों के साथ बैठक कर मास्टर प्लान बनाकर विकास किए जाने का निर्णय लिया.

यह भी पढ़ें- Chomu Samachar: चंद रुपयों के लालच में Buses में हो रहा Luggage का अवैध परिवहन!

राजस्थान रोडवेज के अध्यक्ष एवं प्रबंधक निदेशक राजेश्वर सिंह की अध्यक्षता में विभागाध्यक्ष, जोनल मैनेजर एवं मुख्य प्रबन्धकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से हुई. बैठक में विस्तृत चर्चा कर बस स्टैंड्स पर यात्रियों एवं आमजन के लिये मूलभूत सुविधाओं के साथ ही उपलब्ध भूमि का मास्टर प्लान बनाकर विकास करने का निर्णय लिया गया है.

क्या कहना है राजस्थान रोडवेज के सीएमडी राजेश्वर सिंह का
राजस्थान रोडवेज के सीएमडी राजेश्वर सिंह ने बताया कि राजस्थान रोडवेज के 56 डिपो, 97 बस स्टैंड्स और 136 सम्पतियां राजस्थान में हैं. ये सभी राजस्थान रोडवेज की सम्पतिया धार्मिक, ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व के पास स्थित है. इन सम्पतियों का सुनियोजित रूप से विकास हो. वहीं, यात्रियों के लिये मूलभूत सुविधाएं, दुकान, कैंटीन एवं अन्य निर्माण कार्य सुनियोजित तरीके से नहीं किया गया है, इस कारण सभी बस स्टेण्डों का मास्टर प्लान बनाकर विकास किया जाएगा. मास्टर प्लान बनाने के लिये सेवानिवृत सिविल अभियन्ताओं की सेवाएं लेने का भी निर्णय लिया गया. मास्टर प्लान का अनुमोदन मुख्यालय से किये जाने के बाद उसमे बदलाव की अनुमति मुख्यालय से लेनी आवश्यक होगी.

बस स्टैंड्स और आगारों में काफी भूमि का उपयोग 
रोडवेज सीएमडी राजेश्वर सिंह ने बताया कि सभी वीडियो कॉन्फ्रेन्सिग में निर्देश दिया कि राजस्थान रोडवेज के पास सम्पूर्ण राज्य में बस स्टैंड्स और आगारों में काफी भूमि का उपयोग नहीं किया जा रहा, इसलिये गैर संचालन आय प्राप्त करने के लिये मास्टर प्लान बनाकर शॉपिंग कॉम्पलेक्स, दुकान, कार्यालय, बैंक एवं फुड प्लाजा, मैरीज गार्डन के रूप में विकास कर लीज पर दिया जाएगा. राजस्थान रोडवेज के 97 बस स्टैंड्स राजस्थान के सभी संभाग एवं जिला मुख्यालय, शहरों, पर्यटन एवं धार्मिक स्थलों के प्रमुख स्थलो पर है. बस अड्डो का मास्टर प्लान बनाकर विकास करने से रोडवेज को गैर संचालन राजस्व प्राप्त होने के साथ ही लोगो को व्यवसाय करने के लिये स्थान उपलब्ध होगा. जिससे लोगो को रोजगार भी मिलेगा.

यात्रियों की सुविधा का रखा जाएगा ख्याल
राजस्थान रोडवेज की सम्पतियों का सुनियोजित रूप से विकास कर अब रोडवेज को घाटे से उभारने के लिए सम्पतियों पर लोगों को व्यवसाय करने के लिए जगह उपलब्ध करवाएगी, जिससे रोडवेज की आय में इजाफा तो होगा ही लोगों को भी रोजगार मिलेगा, वहीं बस स्टैंड पर आने वाले यात्रियों को भी पर्याप्त सुविधा होगी. सुलभ कॉम्पलेक्स के लिए भी रोडवेज प्रशासन ने सुलभ इंटरनेशन के अधिकारियों से बात की हुई है. ज्यादा से ज्यादा बस स्टैंडों पर सुलभ शौचालय की सुविधा हो योजना बनाकर रोडवेज धरातल पर लाएगा

प्रातिक्रिया दे