Breaking News

बिहार के ये विधायक बुलेटप्रूफ कार में करते हैं सफर, सब तरफ बस इन्हीं का जिक्र

Patna: Bihar JDU MLA Bulletproof Car बिहार में कानून-व्यवस्था के चुस्त और दुरुस्त होने का दावा किया जाता रहा है. इसको लेकर राज्य सरकार लगातार तमाम तरह के कदम भी उठा रही है. लेकिन सरकार के इस दावे को तब धक्का पहुंचता है जब सत्तारुढ दल के विधायक ही भय के कारण बुलेटप्रूफ गाड़ी (Bulletproof Car) की सवारी करने को मजबूर हैं. हम बात कर रहे हैं जेडीयू विधायक डॉ संजीव सिंह की. JDU विधायक डॉ संजीव सिंह एकलौते ऐसे विधायक हैं जो फिलहाल बिहार विधानसभा में बुलेटप्रूफ गाडी से पहुंचते हैं.

बता दें कि संजीव सिंह पर पहले हमला हो चुका है. इसलिए उन्होंने अपनी सुरक्षा के लिए बुलेटप्रूफ गाड़ी का इस्तेमाल करना शुरू किया था. लेकिन आरजेडी सत्तारुढ दल के विधायक के खौफ में होने को लेकर विधायक और सरकार दोनों पर सवाल खड़े कर रही है. वहीं, जेडीयू विधायक डॉ संजीव सिंह अकसर सुर्खियों में रहते हैं. विधानसभा में सवाल उठाने का मामला हो या हर दिन सदन पहुंचने का मामला. डॉ संजीव कभी चूकते नहीं. कुछ ऐसे में ही वह अपनी जिंदगी को बचाने को लेकर भी उतने ही संजीदा हैं.

जानकारी के अनुसार, विधानसभा चुनाव 2020 के दौरान डॉ संजीव पर हमला हो चुका है. इसको लेकर मामला भी दर्ज है. जिसमें उन्होंने RJD के अपने इलाके के नेताओं को नामजद आरोपी बनाया है. इतना ही नहीं चुनाव के बाद उनके करीबी एक जेडीयू नेता की भी कुछ लोगों ने हत्या कर दी. डॉ संजीव इसके पीछे भी आरजेडी के ही लोगों का हाथ बता रहे हैं. सबूत के साथ वह हर दिन विधानसभा भी पहुंचते हैं. ताकि उनके करीबी जेडीयू नेता की हत्या में शामिल फरार अपराधियों को गिरफ्तार करवा सकें. लेकिन सफलता अभी तक नहीं मिली है. जेडीयू विधायक कहते हैं कि जब उनपर हमला हुआ तो इसकी शिकायत उन्होंने डीजीपी से लेकर सीएम तक से की है. ऐसे में सुरक्षा उनके लिए जरूरी पहलू है.

इधर, सत्तारुढ दल के विधायक की सुरक्षा को लेकर उठने वाले सवाल पर आरजेडी ने चुटकी ली है. आरजेडी विधायक रामानुज पहले तो आरजेडी नेताओं को हत्यारोपी बनाए जाने पर ही सवाल खड़े करते हैं और जेडीयू विधायक की सोच पर प्रश्नचिन्ह लगा रहे हैं. साथ ही सत्तारूढ़ दल के विधायक के खौफ में होने पर सुशासन पर भी सवाल खड़े करते हैं.

वहीं, जेडीयू विधायक भले ही अपनी जिंदगी को लेकर खौफजदा हों. लेकिन बिहार सरकार के मंत्री इस खौफ को बेजा मान रहे हैं. मंत्री अमरेन्द्र प्रताप की माने तो बिहार में हालात बिलकुल ऐसे नहीं कि किसी को बुलेटप्रूफ गाड़ी पर चलना पड़े. जबकि मंत्री मदन सहनी ने कहा है कि ‘बिहार में सुशासन है. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के राज में बेहतरीन कानून व्यवस्था स्थापित हुई है. इसलिए किसी को डरने की जरुरत नहीं. हालांकि, मंत्री भले ही डर की बात को सिरे से खारिज कर रहे हों. लेकिन विधायक का खौफ तो हकीकत बयान कर रहा है. ऐसे में सवाल उठना लाजिमी है कि जब ‘माननीय’ ही दहशत में रहेंगे तो आम लोगों का क्या होगा?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *