Breaking News

Barmer News : माता राणी भटियाणी की महिमा, दर्शन के लिए लग रही लम्बी लाइनें

Barmer: राजस्थान के बाड़मेर (Barmer News) के जसोल में मां राणी भटियाणी (Mata Rani Bhatiyani) का मंदिर कोरोना काल में करीब 9 महीने बंद रहने के बाद खुला है. भक्तों के लिए मानो जैसे उम्मीदों का द्वार खुल गया है. सैकड़ों की संख्या भक्त हर दिन यहां पहुंच रहे हैं.

इस मंदिर को भक्त अलग अलग नामों से जैसे, भुआसा, स्वरूपों और माजिसा से पुकारते हैं. मां राणी भटियाणी के प्रति भक्तों की आस्था का अंदाज इस बात से ही लगा सकते हैं. यहां जब मेला भरता है. तो भक्त रात को 3 बजे ही दर्शन के लिए कतार में लग जाते हैं. ताकि सुबह पहली ज्योत के दर्शन हो सके.

ये भी पढ़ें: Barmer में खुलेगा देश का पहला बाजार अनुसंधान संस्थान, कैलाश चौधरी ने किया ऐलान

माता राणी भटियाणी की महिमा
माजिसा का जन्म जैसलमेर के जोगीदास गांव में हुआ था
उनका जन्म ठाकुर जोगीदास के घर पर हुआ था
उनका विवाह मालाणी की राजधानी जसोल में हुआ था
जसोल के राव भारमल की पुत्र जेतमाल के उत्तराधिकारी राव कल्याण सिंहं के साथ हुआ था
जसोल ही में ही हर साल भाद्रपद शुक्ल त्रयोदशी को माजिसा का मेला भरता है
जसोल मंदिर में हर साल करीब 15 लाख भक्त पहुंचते है.

कोरोना की वजह से करीब 9 महीने तक जसोल मंदिर बंद रहा. अब एक बार फिर मंदिर (Mata Rani Bhatiyani temple) के कपाट खुले हैं तो भक्त मां के दरबार में पहुंच रहे हैं. उम्मीदों के सागर में आस्था की डुबकी लगा रहे हैं और मां के दरबार में जागरण देकर मां को प्रसन्न कर रहे हैं.

सूर्य उदय होने के साथ ही मारवाड़ के सैकड़ों गांवों से भक्त यहां पहुंचते हैं. मां की मंगल आरती में शामिल होते हैं. मां की प्रतिमा का गहनों, कपड़ों और फूल मालाओं से श्रंगार किया जाता है. जैसलमेर के पत्थरों पर नक्काशी से बना मंदिर और इसका प्रवेश द्वार भक्तों के लिए आकर्षण बने हुए हैं. वहीं, मंदिर परिसर में बनी धर्मशाला भक्तों को सुकुन की छांव देती है.

जोगीदास गांव में जन्मे भटियाणी जी का सबसे भव्य मंदिर जसोल में है, लेकिन मारवाड़ (Marwar) के हजारों गांवों में मां के चमत्कार की चर्चाएं हैं. मां के छोटे-छोटे देवरे बने हुए हैं. जन जन की अराध्य माता राणी भटियाणी की चौखट पर सिर्फ राजस्थान ही नहीं बल्कि गुजरात, मध्यप्रदेश, हरियाणा और महाराष्ट्र से भी हजारों भक्त पहुंचते हैं. मां के दरबार में शीश नवाते हैं और उम्मीदों का धागा बांधते हैं.

ये भी पढ़ें: Barmer News: रेतीले दरिया में उगाई Europe की मशहूर सब्जी, यौन स्वास्थ्य के लिए है फायदेमंद

free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator Free v bucks Free v bucks Free v bucks generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator free robux free robux generator

प्रातिक्रिया दे