Breaking News

Kashmir में खुला Badamwari Bagh, रंग-बिरंगे फूल देखकर पर्यटकों के चेहरे खिले

श्रीनगर: कश्मीर (Kashmir) में जैसे ही श्रीनगर ( Srinagar) के पुराने शहर में नगीन झील के किनारे ऐतिहासिक बादामवारी बाग (Badamwari Bagh) में बादाम के पेड़ों पर फूल खिलें और उन पर तितली- मधुमक्खी बैठनी शुरू हो जाएं तो माना जाता हैं कि वहां पर बहार ने दस्तक दे दी है. कश्मीर में कड़ाके की ठंड के बाद अब सुहावने मौसम का दौर शुरू हो गया है. लोगों को उम्मीद है कि इस मौसम में पर्यटन, व्यापार और  शिक्षा के उनके कारोबार बढ़ेंगे. लोग कश्मीर में शांति बने रहने की आशा भी कर रहे हैं. 

सुहावने मौसम का स्वागत बादामवारी बाग से

कश्मीर की परंपरा के मुताबिक सुहावने मौसम का स्वागत श्रीनगर के इसी बादामवारी बाग  (Badamwari Bagh) से किया जाता हैं. इस इलाके के आसपास रहने वाले लोग कहते हैं कि पुराने दिनों में जैसे ही इन पेड़ों पर फूल लगते थे तो उस वक्त सूफियाना महफिलों का दौर शुरू हो जाता था. इन महफिलों में कश्मीर के पारंपरिक नगमें गाए जाते थे. उन नगमों में प्रकृति का धन्यवाद किया जाता था और साथ ही दुआ की जाती थी कि आने वाला साल खुशहाल रहे. इस बार संगीत तो नहीं बजा लेकिन लोगों ने दुआ की है कि आने वाला साल इन फूलों की तरह सुहाना हो.  

बाग को और विकसित करने की जरूरत

बादामवारी के पास रहने वाले बशारत सलीम कहते हैं,’मैंने हमेशा खूबसूरत बादामवारी बाग  (Badamwari Bagh) देखा है लेकिन इसे और डेवलप करने की ज़रूरत है. यह एक पारंपरिक ऐतिहासिक जगह है, जहां  देश विदेश से लोग आते हैं.’ बशारत अपनी बेटी मुस्कान को अपनी परंपराओं से अवगत कराने के लिए बादामवारी बाग में साथ लेकर आए थे. मुस्कान ने कहा, ‘मैंने बचपन से बादामवारी बाग के बारे में सुना था. यहां आकर पता चला कि यहां की खूबसूरती अदभुत है. यहां पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र ये ब्लूम (Bloom) हैं. मुझे लगता है कि जब यहां ब्लूम आएगा तो लोग बाहर निकलेंगे और इससे इलाके में अच्छा सकारात्मक असर होगा.’

पर्यटकों ने कुदरत की खूबसूरती को सराहा

बादामवारी बाग  (Badamwari Bagh) को शुक्रवार को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया. पहले ही दिन बड़ी संख्या में लोग वहां घूमने पहुंचे. स्थानीय लोगों के साथ पर्यटक भी छोटी छोटी टोलियों में चाय की चुस्कियां लेते दिखाई दिए. सबने कुदरत की इस खूबसूरती को जमकर सराहा. कई पर्यटक तो थिरकते भी दिखाई दिए. बाग में आए पर्यटक रिजिनमो ने कहा, ‘हम यहां पहली बार आए हैं. यहां स्प्रिंग देखकर मुझे बहुत अच्छा लगा. दूसरी पर्यटक स्टानज़िंग कहती हैं,’यह बहुत अच्छा बाग है. यहां बहुत सारे फूल हैं खासकर बादाम के फूल. इन्हें देखने के लिए लोगों को यहां आना चाहिए.’

ये भी पढ़ें- Kashmir ने बनाया पर्यटकों का रिकॉर्ड, साल 2012 के बाद आए सबसे ज्‍यादा करीब 50 हजार टूरिस्‍ट

कोरोना की वजह से पिछले साल बंद था बाग

कोरोना महामारी के कारण पिछले साल इस बाग को पर्यटकों के लिए बंद रखा गया था. हालांकि इस साल इसे खोल जरूर दिया गया है लेकिन कोरोना की वजह से ऐहतियात अब भी जारी हैं. बाग में कई जगहों पर प्राइवेट गार्ड तैनात किए गए हैं और पोस्टर लगाकर लोगों से मास्क पहनकर आने की अपील की जा रही है. लोगों को स्पष्ट किया जा रहा है कि बिना मास्क के उन्हें बाग में घुसने की अनुमति नहीं दी जाएगी. 

LIVE TV

प्रातिक्रिया दे