Breaking News

चुनाव से पहले TMC की बढ़ीं मुश्किलें, ED ने जब्त की इस नेता की प्रॉपर्टी

नई दिल्ली: तृणमूल कांग्रेस (TMC) नेता विनय मिश्रा और उनके भाई विकास मिश्रा को सीमा पार मवेशी तस्करी (Cattle Smuggling) मामले में गिरफ्तार किया गया है. अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरुवार को उनकी अचल संपत्तियों को कुर्क किया है. ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि एजेंसी ने कोलकाता में मिश्रा बंधुओं की आवासीय संपत्ति (Residential Property) को कुर्क किया है.

ईडी ने अवैध कोयला तस्करी मामले की जांच के सिलसिले में 16 मार्च को दिल्ली से फरार चल रहे विकास मिश्रा को गिरफ्तार किया था. इसके बाद एक अदालत ने विकास मिश्रा को 6 दिन की ईडी हिरासत में भेज दिया.

ईडी ने मवेशी तस्करी (Cattle Smuggling) मामले में धन शोधन निरोधक अधिनियम (PMLA) के तहत कार्रवाई करते हुए तृणमूल कांग्रेस के नेता विनय मिश्रा और उनके भाई विकास मिश्रा की अचल संपत्तियां जब्त की हैं.

मवेशी तस्करी मामले में मनी लॉन्ड्रिंग का ईडी मामला सीबीआई की एफआईआर पर आधारित है, जो पिछले साल 21 सितंबर को चार व्यक्तियों के खिलाफ दर्ज किया गया था, जिसमें कुछ सीमा सुरक्षा बल और सीमा शुल्क अधिकारी शामिल थे, जिन्हें अंतरराष्ट्रीय पशु तस्करों द्वारा कथित रूप से रिश्वत दी गई थी.

मामले के संबंध में सीबीआई ने देशभर के 34 स्थानों पर तलाशी ली थी और पिछले साल बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार और मवेशी (पशु) तस्कर मोहम्मद इनामुल हक को गिरफ्तार किया था. हक फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं. सीबीआई ने इस मामले में इस साल फरवरी में सात लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था.

प्रातिक्रिया दे