Breaking News

हॉलमार्क का नकली सोना!, कही आप भी तो नहीं हुए ऐसी ठगी के शिकार

कर्ण मिश्रा/जबलपुर: अगर आप से कहा जाए कि नकली सोने पर असली हॉलमार्क का निशान लगा हो तो क्या आप विश्वास करेंगे, शायद नहीं. लेकिन जबलपुर पुलिस के हत्थे एक ऐसा शातिर बदमाश चढ़ा है. जो नकली सोने के जेवरात को असली हॉलमार्क का सोना बताकर व्यापारी के साथ ठगी करने पहुंचा था. लेकिन ठगी से पहले ही व्यापारी की होशियारी से शातिर बदमाश को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

यह है पूरा मामला 
आमतौर पर सोना(गोल्ड) व्यक्ति की मजबूत आर्थिक स्थिति को दर्शाता है. अगर कोई इंसान बुरे आर्थिक हालातों में फंस जाए तो उसे बेचकर अपनी परेशानी को दूर कर लिया जाता हैं. इसी कहानी को सुनकर एक शातिर बदमाश ने ज्वेलर्स को ठगने की कोशिश की. जबलपुर के शाहपुरा थाना क्षेत्र में रहने वाला सचिन पटेल 58 ग्राम वजनी नकली सोने की चेन और अंगूठी ज्वेलर्स कल्लू जैन के पास गिरवी रखने पहुंचा. उसने ज्वेलर्स को बताया कि ससुराल में मुसीबत आई है, इसलिए उसे डेढ़ लाख रुपए की जरूरत है.

बदमाश सचिन ने व्यापारी से कहा कि वह इन सोने और अंगूठी की कीमत दो लाख रुपए हैं आप इसे गिरवी रखकर उसे डेढ़ लाख रुपए दे दे. लेकिन दूसरों को असली और नकली सोने की पहचान कराने वाले सुनार ने जब यह सोना चेक किया तो वह हैरान रह गया. क्योंकि यह सोना पूरी तरह नकली था, लेकिन उस पर

ये भी पढ़ेंः CG की मेहनती महिलाएंः 6 एकड़ बंजर जमीन को बना दिया उपजाऊ, अब उग रहे टमाटर-भिंडी

लेकिन दूसरों को असली और नकली सोने की पहचान कराने वाला सुनार ही अगर नकली ठगी का शिकार हो जाए तो हॉलमार्क का असली निशान लगा हुआ था. ऐसे में व्यापारी ने समझदारी से काम लेते हुए ठग सचिन को बातों में व्यस्त रखा और पुलिस को पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दे दी. जैसे ही पुलिस शॉप पर पहुंची तो बदमाश सचिन भागने की कोशिश करने लगा. लेकिन इससे पहले की वह भागता पुलिस ने उसे पकड़ लिया.

पूछताछ में जुटी पुलिस
दरअसल, इस पूरे मामले में बड़ा सवाल यह बना हुआ है कि आखिर बदमाश ने नकली सोने पर असली हॉलमार्क का निशान कैसे लगा लिया. ऐसे में बदमाश सचिन पटेल को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस उससे पूछताछ में जुटी है. जबकि यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि उसने किसी और के साथ तो इसी तरह ठगी तो नहीं की है.

ये भी पढ़ेंः खुले में शौच जाने को मजबूर नेशनल खिलाड़ी, मां का छलका दर्द- शर्मिंदगी महसूस होती है

प्रातिक्रिया दे