Breaking News

Jaipur: राजनीति विज्ञान की किताब पर मचा बवाल, संजीव प्रकाशन कार्यालय में तोड़-फोड़

Jaipur: संजीव प्रकाशन (Sanjeev Prakashan) की किताब में इस्लाम धर्म (Islam religion) के खिलाफ किए गए विवादित कंटेंट को लेकर आज एक समुदाय विशेष के लोगों ने प्रकाशन के कार्यालय में पहुंचकर तोड़फोड़ की और जमकर हंगामा मचाया.

यह भी पढ़ें- Rajasthan की राजनीति में नया बवाल, सियासी लड़ाई में बदला ‘राजनीति विज्ञान’ का सवाल

सूचना के बाद कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर घटनाक्रम की जांच की. जयपुर के कोतवाली थाना इलाके में चौड़ा रास्ता स्थित संजीव पब्लिशर ऑफिस में जमकर बवाल हुआ. 12वीं कक्षा की किताब में इस्लाम धर्म को लेकर प्रकाशित विवादित कंटेंट के खिलाफ समुदाय विशेष के लोगों ने पब्लिशर के ऑफिस में जमकर तोड़फोड़ कर हंगामा किया.

यह भी पढ़ें- Rajasthan में परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान, ऐसे होंगे 1 से 11वीं कक्षाओं के Exams!

ऑफिस में रखा फर्नीचर तोड़कर किताबों को भी फाड़ दिया गया. कुछ किताबों को बाहर लाकर जला दिया गया. मौके पर हुए उत्पाद को देखकर जब आसपास के व्यापारी जमा हुए दो हमलावर मौके से फरार हो गए. सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस मौके पर पहुंची. मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. तोड़फोड़ की घटना को लेकर दुकान विक्रेता का कहना है कि धमकी भरे फोन कई दिन से आ रहे थे. इसके बाद आज अज्ञात लोग दुकान में घुसकर जमकर तोड़फोड़ करके भाग गए. कोतवाली पुलिस ने बताया कि 12वीं कक्षा की किताब में इस्लामिक आतंकवाद पर छापे गए एक चैप्टर से नाराज होकर काफी समय से धमकियां दी जा रही थी. हमलावरों ने ऑफिस में घुसकर फर्नीचर को तोड़ा और किताबों को भी फाड़ दिया.

क्या है बुक विक्रेताओं का आरोप 
बुक विक्रेता का आरोप है कि ऑफिस में तोड़फोड़ करने के बाद कुछ किताबें लूट कर ले गए. किताबों को बाहर ले जाकर जला दिया गया. दरअसल, 12वीं कक्षा की राजनीतिक विज्ञान की एक किताब में इस्लामिक आतंकवाद के सवाल पर एक जवाब छापा गया था. यह सवाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की किताब में भी पूछा गया है, इसी को लेकर पूरा हंगामा हुआ है.

संजीव पब्लिकेशन के मैनेजर के मुताबिक, कुछ समय पहले इस सवाल के जवाब पर आपत्ति आई तो सभी पुस्तकें बाजार से वापस मंगवा ली गई थी, और नई किताबों से भी उस कंटेंट को हटा दिया गया था. ताकि किसी भी धार्मिक आस्था को ठेस नहीं पहुंचे. इसके बावजूद तीन-चार दिन पहले कुछ लोगों के फोन आए और उन्होंने आज तोड़फोड़ कर दी. घटना के बाद चौड़ा रास्ता व्यापार मंडल और जयपुर व्यापार महासंघ के पदाधिकारी भी मौके पर पहुंचे. पदाधिकारियों की ओर से कहा गया कि आरोपियों के खिलाफ अगर पुलिस कार्रवाई नहीं करती है तो जयपुर का बाजार बंद रखा जाएगा. वही मौके पर भाजपा नेता भी पहुंचे और उसके बाद पुलिस कमिश्नर से मिलकर मामले की शिकायत दी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *