Breaking News

Sachin Vaze Case: मर्सिडीज के बाद Land Cruiser Prado कार सीज, दो अन्य लक्जरी गाड़ियों की तलाश

 

मुंबई: एंटीलिया केस में मुंबई पुलिस अधिकारी सचिन वझे (Sachin Vaze) की गिरफ्तारी के बाद एनआईए की जांच ने गति पकड़ी है. इस मामले में NIA ने अब मर्सिडीज कार के बाद एक और लक्जरी कार लैंड क्रूजर पराडो कार सीज की है. सूत्रों के मुताबिक इस कार का इस्तेमाल भी सचिन वजे किया करता था. यह कार सचिन वाजे के घर से सीज की गई है.

दो अन्य लक्जरी कारों की तलाश

NIA को अब दो और लक्जरी कार की तलाश है, जिसका इस्तेमाल सचिन करता था। लैंड क्रूजर पराडो, ब्लैक मर्सडीज के अलावा ब्लू मर्सडीज और स्कोडा कार है, जिनकी NIA को तलाश है. बता दें कि कल NIA की टीम सचिन वझे को अलग अलग जगहों पर ले कर गयी थी. इस दौरान NIA ने सचिन वझे की निशानदेही पर एक कुर्ते की खोज भी की. इस बीच मुलुंड टोल नाके के पास जलाए गए दूसरे कुर्ते की राख भी NIA की फोरेंसिक टीम ने अपने कब्जे में ले ली है. 

एफएलएल टीम ने भी संभाला मोर्चा

सचिन वझे केस में एनआईए के साथ फॉरेसिंक टीम भी अपने काम में जुट गई है. एफएसएल की 8 टीमें सबूतों की केमिकल जांच कर रही हैं. इसके अलावा वो मर्सिडीज कार से मिले सबूतों का भी आकलन कर रही है. यही नहीं, सचिन वझे से जब्त किए गए फोन से डाटा रिकवरी के बाद उसकी जांच भी की जाएगी.

इस केस की अब तक की 5 बड़ी बातें

पहली बड़ी बात- मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को बुधवार को हटा दिया गया और उनकी जगह हेमंत नगराले मुंबई के नए पुलिस कमिश्नर बने.
दूसरी बड़ी बात- महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दावा किया कि सचिन वझे शिवसेना की एजेंट था.
तीसरी बड़ी बात- बीजेपी का आरोप है कि सचिन वझे ने ही गाड़ी की गुमशुदगी की रिपोर्ट मनसुख हिरेन से लिखवाई थी.
चौथी बड़ी बात- मनसुख हिरेन की हत्या कर उसके शव को खाड़ी में फेंका गया था. ये दावा बीजेपी का है.
पांचवीं बड़ी बात- स्कॉर्पियो की असली नंबर प्लेट NIA ने एक काले रंग की मर्सिडीज से बरामद की है.

‘ATS-NIA के पास वझे-मनसुख की बातचीत का टेप’

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने दिल्ली में सचिन वझे मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की. सचिन वझे क्या करता था, उसके शिवसेना से कैसे रिश्ते थे और मनसुख हिरेन कैसे मरा. इसे लेकर फडणवीस ने कई बड़े दावे किए. उन्होंने कहा, ‘एटीएस और एनआईए के पास कुछ ऐसे टेप हैं, जिसमें मनसुख की आवाज है और उसमें सचिन वझे ने क्या कहा है उसकी भी पुष्टि होती है. अब यह कनेक्टेड मामला हो गया है इसलिए मनसुख की मौत की जांच भी एनआईए को करनी चाहिए.

प्रातिक्रिया दे