Breaking News

Corona Returns: बाजार रात 10 बजे बंद, होली में जुलूस पर रोक, मास्क नहीं लगाने पर 500 Rs जुर्माना

भोपाल: मध्य प्रदेश में मंगलवार को कोरोना के 817 नए मामले आए. यह इस साल एक दिन में आए कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक मामले हैं. इसमें भोपाल के 235 मरीज शामिल हैं. राजधानी में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 1066 हो गई है. कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एक ओर सरकार नाइट कर्फ्यू लगा रही है, दूसरी ओर मेलों में हजारों की भीड़ इकट्‌ठा हो रही है. चाहे भोपाल में लगा हुनर हाट हो या ग्वालिय में लगा व्यापार मेला. हजारों लोग यहां रोजाना इकट्ठा हो रहे हैं और कोरोना को खुला निमंत्रण दे रहे हैं.

पति की दरिदंगी की शिकार संगीता की सर्जरी फेल, अब हाथ से जोड़ी गई हथेली अलग करेंगे डॉक्टर

कोरोना की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल, इंदौर, ग्वालियर और जबलपुर में आज रात से नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया है. वहीं होली-रंगपंचमी पर होने वाले मेले और मिलन समारोह पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में साफ कर दिया कि जिन भी जिलों में कोरोना के पॉजिटिव केस बढ़ेंगे, वहां सख्ती के साथ आवश्यक व्यवस्थाएं की जाएंगी.भोपाल और इंदौर सहित 10 जिलों में समस्त दुकानें और व्यावसायिक प्रतिष्ठान रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे.

सिर में ईंट मारने से हो गई थी शराबी पति की मौत, अब पत्नी को मिली आजीवन कारावास की सजा

उज्जैन, रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल और खरगोन में भी रात 10 बाजार बंद होंगे. इन जिलों में होने वाले सामाजिक, शैक्षणिक, राजनीतिक, धार्मिक, मनोरंजक, सांस्कृतिक कार्यक्रम व खेल आयोजनों में भी अधिकतम संख्या 100 से अधिक नहीं होगी. दो दिन पहले ही यह संख्या 200 तक रखी गई थी, जिसे और घटा दिया गया है. होली-रंगपंचमी पर व्यक्तिगत आयोजनों पर रोक नहीं रहेगी, लेकिन जुलूस पर प्रतिबंध रहेगा.

MP: कुत्तों की नसंबदी पर खर्च हुए 17 करोड़, विधायक के सवाल पर आया चौंकाने वाला जवाब

जिन जिलों में अधिक मामले सामने आ रहे हैं उनमें मास्क न लगाने पर ओपन (खुली) जेल में रखने और फाइन लगाने की व्यवस्था लागू रहेगी. भोपाल में मास्क नहीं पहनने, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर 100 की जगह अब 500 रुपए तक जुर्माना वसूला जाएगा. दवाइयों, राशन और खानपान की दुकानों पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा. केवल अस्पताल, एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड आने-जाने की अनुमति होगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *