Breaking News

शिक्षक को 23 साल में मिली 36 लाख सैलरी, जब लोकायुक्त ने रेड मारी तो निकला इतने करोड़ का मालिक, 11 घंटे चली कार्रवाई

भोपाल: भोपाल लोकायुक्त पुलिस ने बैतूल के एक प्राइमरी शिक्षक पंकज श्रीवास्तव के दो ठिकानों पर एक साथ छापेमार कार्रवाई की है. कार्रवाई के दौरान शिक्षक के घर में मिले दस्तावेजों को देख पुलिस भी हैरान रह गई. 23 साल में 36 लाख सैलरी पाने वाला शिक्षक करोड़ों की संपत्ति का मालिक निकला है. पुलिस अधिकारियों के अनुसार दोनों ठिकानों पर हुई कार्रवाई में 5 करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा हुआ है.

बैंक लॉकर की भी जानकारी मिली
मंगलवार सुबह 7 बजे लोकायुक्त पुलिस टीम ने भोपाल के मिनाल और बैतूल की एमजीएम कॉलोनी बगडोना स्थित शिक्षक के निवास पर एक साथ छापा मारा था. दोनों जगहों से एक लाख रुपए से ज्यादा की नगदी बरामद की गई है, जबकि एक बैंक लॉकर की जानकारी भी पुलिस को मिली है. इसके अलावा करीब 25 संपत्तियों के दस्तावेज जब्त किए गए हैं.

कुल वेतन 36 लाख 50 हजार, छापे में मिली 5 करोड़ की संपत्ति
साल 1998 में संविदा शिक्षक से भर्ती हुए पंकज ने 23 साल में ही 5 करोड़ से अधिक की संपत्ति जमा कर ली, जबकि इस अवधि में उन्हें वेतन से महज 36 लाख 50 हजार रुपए मिले.

11 घंटे चली कार्रवाई
मंगलवार शाम 6 बजे तक करीब 11 घंटे कार्रवाई चली. पुलिस टीम शिक्षक के ठिकानों से तीन सूटकेस में दस्तावेज भरकर ले गई है, जिनमें प्रॉपटी, चेकबुक, पासबुक समेत कई दस्तावेज शामिल हैं. शिक्षक के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त पुलिस ने उसके भोपाल और बैतूल स्थित ठिकाने पर छापा मारा है.

पुलिस अधिकारियों ने कही ये बात
बैतूल के बगडोना में दल का नेतृत्व कर रहे इंस्पेक्टर सोहिल शर्मा के मुताबिक प्रारंभिक तौर पर संपत्तियों के दस्तावेज से आकलन लगाया गया है कि यह संपत्ति 5 करोड़ से ज्यादा की है. उन्होंने बताया कि दल ने जब्त किए गए सभी कागजातों की एक सूची बनाई है. अब इनकी जांच की जाएगी.

इन इलाकों में खरीदी है जमीन
दोनों ठिकानों से मिले कागजातों के अनुसार शिक्षक ने मिनाल रेजीडेंसी भोपाल में डुप्लेक्स, समर्दा में एक प्लॉट, पिपलानी में 1 एकड़ जमीन, छिंदवाड़ा में 6 एकड़ जमीन, बैतूल में 8 आवासीय प्लॉट, 6 दुकानें खरीदी हुई हैं. इसके अलाव बागडोना के आसपास 25 एकड़ जमीन के दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं. जिनकी जांच की जा रही है.

प्रातिक्रिया दे