Breaking News

शादियों के लिए वेडिंग स्पेशल मास्क, कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव भी, फैशन भी

खास अवसरों के लिए खास किस्म के मास्क की जरूरत सामने आई तो फैशन डिजाइनरों ने इस दिशा में अपनी कल्पनाशीलता का उपयोग करना शुरू किया

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस (Coroanvirus) संक्रमण समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है. कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, हाथों को सैनिटाइज करने के साथ-साथ हमेशा मास्क (Mask) का उपयोग करने की बात पर लगातार जोर दिया जा रहा है. इसका असर यह है कि मास्क अब पहनावे का हिस्सा बन गया है. जब यह पहनावे का हिस्सा बना तो इस पर फैशन (Fashion) का भी प्रभाव दिखने लगा है. कपड़ों के साथ मैचिंग के मास्क के बाद अब विवाह (Wedding) समारोहों के लिए खास तौर पर मास्क डिजाइन किए जाने लगे हैं. शादियों के सीजन में वेडिंग स्पेशल मास्क की मांग बढ़ गई है. खास अवसरों के लिए खास किस्म के मास्क की जरूरत सामने आई तो फैशन डिजाइनरों ने इस दिशा में अपनी कल्पनाशीलता का उपयोग करना शुरू किया और दूसरी तरफ वस्त्र निर्माताओं ने उनका उत्पादन भी शुरू कर दिया है.

गुजरात के सूरत शहर में वेडिंग स्पेशल मास्क की भारी मांग है. मौजूदा शादियों के सीजन के चलते यह मांग बढ़ी है. यह स्वाभाविक ही है क्योंकि लोगों को कोरोना से खुद को बचाने के साथ-साथ आखिर सामाजिक रिश्तों को भी निभाना है. सूरत की फैशन डिजाइनर पूजा जैन कहती हैं कि ”मास्क के लिए हम कॉटन के कपड़े का विकल्प चुनते हैं क्योंकि इसमें से सांस लेने में दिक्कत नहीं होती. भले ही मास्क की बाहरी परत किसी और कपड़े की इस्तेमाल करें, लेकिन आंतरिक परत में सूती कपड़े का ही उपयोग करते हैं. हमारे मास्क जरूरत के अनुकूल हैं.” एक टैक्सटाइल उद्योग समूह के डायरेक्टर सुदर्शन मूंदड़ा कहते हैं कि विवाहों के सीजन में हर कोई फैशनेबल मास्क चाहता है. हम अपने मास्क में N95 मास्क की तकनीक का उपयोग करते हैं. हम मास्क बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कपड़े का एंटी माइक्रोबियल और एंटी बैक्टीरियल ट्रीटमेंट करते हैं. हमने कैमिकल ऑस्ट्रेलिया से आयात किया है. हमारे पास कोविड सर्टिफिकेशन भी है.

प्रातिक्रिया दे