t रोहित जैन कांग्रेस की राजनीति चमचागिरी से बाहर निकले प्रीतम गिल — Bharat Live News

रोहित जैन कांग्रेस की राजनीति चमचागिरी से बाहर निकले प्रीतम गिल

अम्बाला शहर :-  ड्राइंग रूम की राजनीति करने वाले अपने गिरेबान में झांक कर देखें और जनता को गुमराह करने की बजाय अगर उनकी समस्याओं को जमीनी हकीकत पर उतारे तो शायद अपना और जनता का कुछ भला कर सकेंगे और साथ ही साथ डूब चुकी कांग्रेसका भी कुछ नाम इस समाज के बढ़ाने में होगा
भाजपा नेता प्रीतम गिल ने आज प्रदेश कांग्रेस के कोषाध्यक्ष रोहित जैन के सीबीआई की मांग को झूठी वाह वाह लूटने का काम बताया और कहा कि रोहित जैन को ना तो सच्चाई का पता है ना हकीकत का पता है और ना ही कभी उन्होंने बेडरूम से बाहर कोई राजनीति की है वह कांग्रेस के कोषाध्यक्ष बने हैं वह केवल अपने परिवार के शैलजा की चमचागिरी और संबंधों की वजह से बने हैं अगर वह अपनी काबिलियत पर नेता बने होते तो उन्हें सच्चाई का ज्ञान होता और ऐसे बेतुके बयान देने से पहले वह 10 बार सोचते उन्होंने कहा कि माल के पास इनको जिसको लेकर वह हल्ला मचा रहे हैं ने नगर निगम से अपनी परमिशन लेकर काम किया है परमिशने को लेने के बाद उन्होंने अपने नक्शे में फेरबदल करके दूसरी तरफ रास्ता खोला है और जब इस रास्ते के माध्यम से उन्होंने आम जनता के रास्ते में रुकावट पैदा करने की कोशिश की तो अंबाला की जागरूक जनता के सहयोग से उस काम को रोकने का काम अंबाला प्रशासन ने किया
और अब इस मुद्दे के साथ जो वह विकास मंडल की 111 दुकानों का मुद्दा उठा रहे हैं क्या उनके पास इन 111 दुकानों को लेकर कोई पुख्ता जानकारी है या केवल कुछ लोगों के बहकावे में आकर वह इस बात को मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहे हैं ऐसी ना तो कोई योजना नगर निगम के पास थी ना ही विकास मंडल के पास थी कुछ लोग अपने निजी स्वार्थों के लिए बार-बार इन 111 दुकानों को मुद्दा बनाने की कोशिश कर रहे हैं जबकि वास्तविकता ऐसी कोई दुकान ना बनाई जानी थी ना बनाई जानी है केवल और केवल अपने स्वार्थों के लिए कुछ शरारती लोग इस तरह की बातें फैला रहे हैं और रोहित जैन को भी उन्होंने सलाह देते हुए बताया कि वह केवल अपनी पार्टी के मजबूत करने पर ध्यान दें और इस तरह के गैर जिम्मेदाराना बयान देने से बचना चाहिए
2004 से लेकर 2020 तक सोए रहे कांग्रेसी नेताओं को प्रीतम गिल आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जब 2004 से लेकर 2020 तक इन लोगों ने 111 दुकानों के बारे में कुछ नहीं बोला और पिछले 5 साल से जो सड़क जनता के सेवा के लिए बनाई गई तब कुछ नहीं बोला अब इन लोगों को अचानक जनता के लिए बनाई गई सड़क पर हो-हल्ला मचाने का कारण उनकी समझ में नहीं आ रहा है उन्होंने कहा कि सेक्टर 9 को जाने वाली सड़क आम जनता के लिए है और माल का उससे कोई लेना-देना नहीं है उन्होंने कांग्रेसियों से स्पष्ट करते हुए पूछा कि क्या वह सड़क बनाए जाने के हक में हैं या विरोध में है अगर वह चाहते हैं यह सड़क गलत बनी है और माल फायदा बनाने के लिए बनवाई है तो वह नगर निगम को लिखकर दें कि सड़क को तुरंत प्रभाव से बंद कर दिया जाए या रेलवे के अधिकारियों को लिखकर दें कि रेलवे के नीचे से रेलवे लाइन के नीचे से जो सड़क जा रही है वह गैरकानूनी है और इसको बंद करवा दिया जाए अगर कांग्रेसी नेताओं को लगता है कि ऐसा करके जनता का भला करेंगे तो उन्हें जल्द ही रेलवे अधिकारियों से बातचीत करनी चाहिए और इस सड़क को बंद करवाने के लिए हर संभव कोशिश करनी चाहिए ताकि मॉल को फायदा ना पहुंचे और यह सड़क बंद हो जाए
रोहित जैन जी तो कानून के जानकार हैं और अक्सर कोर्ट में केस डालते रहते हैं और इस गैरकानूनी बनाई हुई सड़क को बंद कराने के लिए भी उन्हें कोर्ट में केस डाल कर जल्द से जल्द इस सड़क को बंद करवा देना चाहिए ताकि माल को कोई फायदा न हो और रही बात सीबीआई जांच की तो सीबीआई जांच 2004 से लेकर जितनी भी सरकारें रही उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज होना चाहिए ।